अगर मोदी जन्म से पिछड़ी जाति के होते तो RSS उन्हें कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बनाता: मायावती
trendingNow1525193

अगर मोदी जन्म से पिछड़ी जाति के होते तो RSS उन्हें कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बनाता: मायावती

बसपा प्रमुख ने कहा कि मोदी ने खुद को जबरदस्ती का पिछड़ा घोषित कर रखा है. अगर वह जन्म से ही पिछड़े हैं तो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ उन्हें दोबारा प्रधानमंत्री नहीं बनने देगा.

मायावती का पीएम मोदी पर हमला. (फाइल फोटो)

लखनऊ : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि पीएम राजनीतिक स्वार्थ के लिए जबरदस्ती पिछड़ी जाति के बने हैं. अगर मोदी जन्म से पिछड़ी जाति के होते तो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) उन्हें कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बनाता. मायावती ने आज एक के बाद एक दो टवीट कर प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा. बसपा प्रमुख ने पहले टवीट से मोदी के गठबंधन पर जातिवादी होने के आरोप पर पलटवार किया.

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा समाजवादी पार्टी (सपा)-बसपा-राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) गठबंधन को जातिवादी करार दिए जाने का जवाब देते हुए शुक्रवार को कहा कि उनके आरोप हास्यास्पद और बचकाने हैं.

मायावती ने कहा कि हमारे गठबंधन को जातिवादी कहना ना सिर्फ हास्यास्पद है, बल्कि बचकाना भी है. नरेंद्र मोदी पिछड़ी जाति के नहीं हैं, इसी वजह से उन्हें जातिवाद का दंश नहीं सहन करना पड़ा है. गठबंधन के लिए ऐसे शब्दों के इस्तेमाल से बचा जाना चाहिए क्योंकि ऐसे शब्द ठीक नहीं हैं.

बसपा प्रमुख ने कहा कि मोदी ने खुद को जबरदस्ती का पिछड़ा घोषित कर रखा है. अगर वह जन्म से ही पिछड़े हैं तो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ उन्हें कभी प्रधानमंत्री नहीं बनाता. संघ ने कल्याण सिंह जैसे पिछड़े वर्ग के नेता के साथ क्या किया, यह सबको मालूम है.

मायावती ने कहा कि गठबंधन पर आरोप लगाने के बजाय मोदी को गुजरात में झांकना चाहिए. मुझे पता चला है कि वहां दलितों को सम्मानजनक जीवन जीने का अधिकार नहीं मिला है. वहां एक दलित युवक को अपनी शादी में घोड़े पर नहीं चढ़ने दिया गया. गुजरात में दलितों पर जुल्म किए जा रहे हैं.

मायावती ने कहा कि भाजपा नेताओं द्वारा जिस तरह के अल्फाज इस्तेमाल किए जा रहे हैं, उनसे जाहिर होता है कि उनकी पार्टी लोकसभा चुनाव हार रही है. उन्होंने कहा कि भाजपा सत्ता में नहीं आ रही है और मोदी का दोबारा प्रधानमंत्री बनने का सपना पूरा नहीं होगा.

Trending news