• 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    89कांग्रेस+

  • अन्य

    99अन्य

पीएम मोदी का कार्यकर्ताओं के साथ संवाद, 'काशी जीतने का काम पूरा गया है, अब बूथ जीतना है'

मोदी ने कहा, साथियों जनता हमें जितना प्यार आज दे रही है उसके प्रति हमें उसका आभार जताना होगा. आप लोगों ने जितना परिश्रम किया उससे कहीं ज्यादा लोग कल काशी में आए. ये कार्यकर्ता का परिश्रम और जनता के प्रेम का संगम था. इसी में दिव्यता की अनुभूति होती है. 

पीएम मोदी का कार्यकर्ताओं के साथ संवाद, 'काशी जीतने का काम पूरा गया है, अब बूथ जीतना है'

वाराणसीः लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha elections 2019) के प्रचार में जुटे पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को बूथ कार्यकर्ताओं के साथ संवाद की शुरुआत गुरुवार को वाराणसी में हुए रोड शो के लिए जनता और कार्यकर्ताओं का धन्यवाद दिया. वाराणसी के होटल डी पेरिस में बूथ कार्यकर्ताओं के साथ संवाद करते हुए कहा, 'कल जिस प्रकार से बनारस के लोगों का अपार उत्साह देखा उससे मैं अभिभूत हूं. जैसा परिवार के मुखिया के आशीर्वाद मिलने पर अनुभव होता है मुझे कल हर काशीवासी के आशीर्वाद से वैसा अनुभव हुआ. दोस्तों मैं भी कभी बूथ कार्यकर्ता था. जिस वक्त 'दीया' था तब मैं दीवार पर दीया बनाता था. पोस्टर लगाता था. साथियों जनता हमें जितना प्यार आज दे रही है उसके प्रति हमें उसका आभार जताना होगा. आप लोगों ने जितना परिश्रम किया उससे कहीं ज्यादा लोग कल काशी में आए. ये कार्यकर्ता का परिश्रम और जनता के प्रेम का संगम था. इसी में दिव्यता की अनुभूति होती है.'

बता दें कि शुक्रवार को पीएम मोदी ने वाराणसी लोकसभा सीट से नामांकन करने से पहले बूथ कार्यकर्ताओं से संवाद किया.

आज भी अपने अंदर के कार्यकर्ता को मरने नहीं दिया
पीएम मोदी ने कहा, 'मैं पिछले डेढ़ महीने से हिंदुस्तान के कोन कोने में जा रहा हूं. देख रहा हूं कि जनता अब ये जान चुकी है कि पहले सरकारे बनती थी अब सरकारें चलती हैं. आपको मैं कार्यकर्ता के नाते हिसाब देता हूं पांच साल में कार्यकर्ता के नाते नरेंद्र मोदी ने नाते पार्टी ने मुझसे जितना समय मांगा जब मांगा जहां मांगा, एक बार भी मैंने मना नहीं किया.कार्यसमिति में भी एक कार्यकर्ता की तरह मैं पूरा समय बैठता था. मेरे भीतर के कार्यकर्ता को मैंने कभी मरने नहीं दिया. और पीएम के रूप में मैं जिम्मेवारी निभा पा रहा हूं इसका कारण ये है कि मैं पीएम, बीजेपी कार्यकर्ता और एमपी के नाते उतना ही सजग हूं.'

यह भी पढ़ेंः वाराणसी में PM मोदी के नामांकन में शामिल होंगे दिग्‍गज नेता और फिल्‍मी सितारे, देखें लिस्‍ट

पीएम मोदी ने कहा कि आज पार्टी हमारी बढ़ी है उसका अखबार या टीवी की स्क्रीन की वजह से नहीं है. हम छोटे छोटे कार्यकर्ता है, जैसे कृष्ण के पास ग्वाले होते थे, जैसे रामजी के पास हनुमानजी की सेना थी. ऐसे हमारी भारत मां के हम छोटो छोटे सिपाही है.

काशी तो कल ही जीत ली थी, अब बूथ जीतना है
मोदी ने कहा, 'इस चुनाव के दो पहलू है, एक है काशी लोकसभा जीतना, वो काम कल पूरा हो गया है. एक काम अभी बाकि है वो है पोलिंग बूथ जीतना. अब वो काम बाकि है. एक भी पोलिंग बूथ पर बीजेपी का झंडा झुकने नहीं देंगे. मोदी हारे या जीते वो गंगा मैय्या देख लेगी, लेकिन मेरा कार्यकर्ता नहीं हारना चाहिए.'

महिला वोटरों की संख्या में हो इजाफा
मोदी ने बूथ कार्यकर्ताओं से कहा, 'क्या हम महिला वोटरों की संख्या में इजाफा कर सकते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि मैं मातृ शक्ति को हमेशा सम्मान करता हूं. उन्होंन कहा कि अगर मोदी की कोई सुरक्षा करता है तो वह है देश का माताएं बहनें. देश को कोने कोने से मेरी माताएं बहने वोट करने के लिए एक दूसरे को प्रेरित कर रही है. क्या काशी में ऐसा नहीं हो सकता है? हम तय करें कि हमारे पोलिंग बूथ में अगर 100 वोट पुरुषों के पड़ते हैं तो 105 वोट महिलाओं के पड़ें.'

पहली बार वोट देने वालों का हो स्वागत
पीएम मोदी ने कहा, 'पहली बार वोट देने वाले बेटे-बेटियों का सम्मान करो. वो वोट किसी को भी दें ये मत ध्यान दो. पहली बार वोट देने वालों को गुड खिलाओ. देखिए लोकतंत्र एक उत्सव है. लोकतंत्र में भी हमारा कितना ही विरोधी क्यों ना हो, लेकिन दोस्ती भाईचारा ये लोकतंत्र के लिए सही चीज है. कोई झगड़ा नहीं होना चाहिए. एक बार आप करेंगे तो और दल भी ऐसा करना सीख जाएगा.'

गालियों का चिंता ना करें कार्यकर्ता
पीएम ने कार्यकर्ताओं से कहा, 'कोई मोदी को कितनी भी भद्दी गाली दे, आप चिंता मत करो. आप वो गालियां मोदी के खाते पोस्ट कर दो. मैं गंदी से गंदी चीज से खाद बना देता हूं. मैं उसी खाद से कमल खिलाता हूं. हम दिल जीतने के लिए निकले है, दल अपने आप जीत जाएगा.'

कम से कम खर्च में हम चुनाव लड़ सकते हैं.
पीएम मोदी ने कहा, 'मैं अहमदाबादी हूं, पक्का, अहमदाबादी लोग सिंगल फेयर, डबल जर्नी वाले होता है. कम से कम खर्चे पर चुनाव लड़ा जा सकता है. आपके पोलिंग बूथ पर अगर 1000 वोट हैं मतलब 250 परिवार है. मान लीजिए बूथ पर 25 कार्यकर्ता है. एक कार्यकर्ता को 10 परिवार पर लगा दो. उस कार्यकर्ता को बता दो कि तुम्हारा चाय, खाने का खर्चा बंद. आप उन 10 परिवारों में जाएं और खाना, चाय, टीवी सब वहीं करें.'

पीएम मोदी का कार्यक्रम
8:00 बजे 
मोदी कार्यकर्ता सम्मेलन में बूथ स्तर के कार्यकर्ता और उसके ऊपर के पदाधिकारियो को होटल डी पेरिस में संबोधित किया.

11:00 बजे  पीएम मोदी काशी के कोतवाल काल भैरव मंदिर में पूजा अर्चना करेंगे.

11.15 बजे पीएम मोदी काल भैरव मंदिर से नामांकन स्थल के लिए रवाना होंगे.

11.30 बजे पीएम नामांकन दाखिल करेंगे.

12.30 बजे होटल ताज में बीजेपी की पीसी का कार्यक्रम.