close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव 2019 : क्या राधामोहन सिंह लगा पाएंगे जीत की हैट्रिक?

इस चुनाव में उनका मुकाबला राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) प्रत्याशी आकाश कुमार सिंह से है. आकाश बिहार कांग्रेस के कद्दावर नेता और राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह के बटे हैं.

लोकसभा चुनाव 2019 : क्या राधामोहन सिंह लगा पाएंगे जीत की हैट्रिक?
आकाश कुमार सिंह से है राधामोहन सिंह की लड़ाई. (फाइल फोटो)

पटना : 2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने बिहार के अपने ताकतवर नेता के हाथों में 40 लोकसभा सीटों की जिम्मेदारी सौंपी थी. वर्ष 2006 से 2009 तक बिहार बीजेपी का कमान संभालने वाले राधामोहन सिंह खुद भी इस चुनाव में पूर्वी चंपारण से चुनाव लड़ रहे हैं. 2014 में उन्होंने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) उम्मीदवार बिनोद कुमार श्रीवास्तव को लगभग दो लाख मतों से चुनाव हराया था.

वर्ष 2008 में हुए परिसीमन के बाद अस्तित्व में आए पूर्वी चंपारण के लिए 2009 के आम चुनाव में पहले बार वोट डाले गए थे. इस चुनाव में भी राधा मोहन सिंह ने ही चुनाव जीता था. 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद केंद्र में नरेंद्र मोदी की नेतृत्व वाली सरकार में उन्हें केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री बनाया गया. राधा मोहन सिंह इससे पहले चार बार लोकसभा के सांसद बन चुके हैं.

2014 के लोकसभा चुनाव के आंकड़ों पर अगर करें तो राधामोहन सिंह को यहां 40,04,52 वोट मिले थे. वहीं, आरजेडी प्रत्याशी बिनोद कुमार श्रीवास्तव के खाते में 20,82,89 और जेडीयू उम्मीदवार अवनीश कुमार सिंह के खाते में 128604 मत पड़े थे. 2014 में यहां कुल मतदाताओं की संख्या कुल 14 लाख 39 हजार 253 थी. इस चुनाव में 57.16 प्रतिशत उम्मीदवार ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया.

इस चुनाव में उनका मुकाबला राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) प्रत्याशी आकाश कुमार सिंह से है. आकाश बिहार कांग्रेस के कद्दावर नेता और राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह के बटे हैं.