close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव लड़ने के सवाल पर बोलीं प्रियंका, 'अगर पार्टी कहेगी तो जरूर लड़ूंगी'

लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर बुधवार को अमेठी पहुंची कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक सवाल के जवाब में कहा कि वह लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं. 

लोकसभा चुनाव लड़ने के सवाल पर बोलीं प्रियंका, 'अगर पार्टी कहेगी तो जरूर लड़ूंगी'
प्रियंका ने अमेठी में कार्यकर्ताओं के साथ चुनाव तैयारियों की बैठक की.

अमेठी: लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश की कमान अब अपने हाथ में ले ली है. बुधवार को अमेठी पहुंची. प्रियंका ने एक सवाल के जवाब में कहा कि वह लोकसभा चुनाव लड़ सकती हैं. प्रियंका से सवाल पूछा गया कि क्या वह लोकसभा चुनाव लड़ेंगी? इस पर प्रियंका ने कहा, "मैंने अभी तक निर्णय नहीं लिया. यदि मेरी पार्टी कहेगी तो मैं निश्चित रूप से चुनाव लड़ूंगी. मेरी इच्छा पार्टी के लिए काम करने की है." 

प्रियंका गांधी का चुनावी काफिला आज अपने भाई और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के चुनाव क्षेत्र अमेठी स्थित मुसाफिरखाना एएच इंटर कॉलेज पहुंचा. यहां 'मेरा बूथ, मेरा गौरव' कार्यक्रम के तहत 1956 बूथों के कार्यकर्ताओं के साथ प्रियंका की चुनाव तैयारियों की मीटिंग हुई. इस दौरान उन्होंने  कार्यकर्ताओं को गुरुमंत्र दिए. बैठक के दौरान प्रियंका ने कई मुद्दों पर बात की.  

 

प्रियंका ने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ के बयान पर पलटवार करते हुए कहा, "उन्हें कैसे पता कि मैं कहां जाती हूं और कब जाती हूं? उन्हें कैसे मालूम कि मैं चुनाव के अलावा अन्य समय में नहीं जाती." योगी ने बयान दिया था कि प्रियंका और राहुल को केवल चुनाव के समय मंदिर याद आते हैं. 

प्रियंका गांधी ने बैठक में अमेठी को 8 जोन में बांटा. हर जोन की जिम्मेदारी के लिए बूथ गौरव हेड निर्धारित किया. मेरा बूथ मेरा गौरव बूथ एजेंट्स इनको रिपोर्ट करेंगे. बैठक में प्रियंका गांधी ने बूथ एजेंट्स से पूछा कि क्या आप अपने राहुल भैया को पीएम देखना चाहते है तो कार्यकर्ताओं ने हां में जवाब दिया. प्रियंका ने बूथ एजेंट्स से ये भी पूछा कि क्या भाजपा बूथ लेवल पर अपना झूठा प्रचार कर रही है तब कार्यकर्ताओं ने कहा कि भाजपा चौकीदार और सर्जिकल स्ट्राइक पर ज्यादा जोर दी हुई है. 

प्रियंका ने बूथ लेवल पर कांग्रेस की मजबूती की सलाह मांगी. बूथ एजेंट्स ने उनको अलग-अलग सलाह दी. प्रियंका ने अमेठी में वोटर्स को समझाने के लिए बूथ एजेंट्स को टिप्स दिए. संगठन और निचले कैडर को आपस में समन्वय बनाने की सलाह दी. चुनाव के वक़्त बहकावे में आकर पाला न बदलने की बात कही. 

बैठक के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने पीएम के बयान पर कहा कि सभी वैज्ञानिको को बधाई देती हूं लेकिन हर मुद्दे पर राजनीतिकरण हो रहा और असली मुद्दों पर चर्चा नहीं हो रही. प्रियंका गांधी अपने दौरे के दौरान अमेठी, रायबरेली और अयोध्या में रहेंगी और इस दौरान वो कांग्रेस को मजबूत करने की कोशिश करेंगी.