close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

PM से खुली बहस को तैयार, उनके घर पर भी जाकर कर सकते हैं बहस: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा कि जिस दिन मोदी उनकी चुनौती स्वीकार लेंगे, उस दिन दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा.

PM से खुली बहस को तैयार, उनके घर पर भी जाकर कर सकते हैं बहस: राहुल गांधी

रायबरेली (उत्तर प्रदेश): कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक बार फिर खुली बहस की चुनौती देते हुए गुरुवार को कहा कि जिस दिन मोदी उनकी चुनौती स्वीकार लेंगे, उस दिन दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. राहुल ने यहां मां व संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा रायबरेली लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha elections 2019) के लिए पर्चा दाखिल करने के बाद संवाददाताओं से कहा, 'जिस दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुझसे बहस करने की चुनौती स्वीकार कर लेंगे, उस दिन दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा.'

उन्होंने कहा, 'जिस दिन बहस हुई, उस दिन देश को पता चल जाएगा कि चौकीदार चोर है.' राहुल ने कहा कि वह प्रधानमंत्री से खुली बहस के लिए तैयार हैं और जरूरत पड़ी तो उनके आवास पर जाकर भी बहस कर सकते हैं. उन्होंने सवाल किया कि मोदी बतायें कि अनिल अंबानी को राफेल का ठेका कैसे दिया. राहुल ने कहा, 'मोदी यह समझा दें कि अनिल अंबानी, जो उनका मित्र, दोस्त और भाई है, उसे राफेल का ठेका कैसे दे दिया.' उन्होंने कहा कि मोदी यह भी बतायें कि फ्रांस के राष्ट्रपति ने यह क्यों बोला कि भारतीय प्रधानमंत्री ने कहा कि राफेल का ठेका अनिल अंबानी को मिलेगा.

सोनिया ने किया रायबरेली सीट से नामांकन
इस बीच संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बृहस्पतिवार को रायबरेली लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से अपना नामांकन पत्र दाखिल किया. नामांकन के बाद सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह 'अजेय' नहीं हैं. संवाददाताओं द्वारा पूछे गये सवाल, कि क्या नरेंद्र मोदी अजेय हैं, पर सोनिया ने कहा, ' नहीं. बिल्कुल भी नहीं ... आपको 2004 के नतीजे नहीं भूलने चाहिए ... (अटल बिहारी) वाजपेयी जी भी अजेय थे, लेकिन चुनाव हम जीते.'

सोनिया के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मीडिया से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी को फिर से खुली बहस की चुनौती दी . उन्होंने कहा, 'भारतीय इतिहास में ऐसे कई लोग रहे हैं जो यह सोचते थे कि वे अजेय हैं और भारत के लोगों से बड़े हैं (लेकिन) भारत के लोगों से बड़ा कोई नहीं है. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने पांच साल में भारत के लोगों के लिए कुछ नहीं किया. गांधी ने तंज करते हुए कहा कि उनका (मोदी का) अजेय होना चुनाव नतीजों के बाद स्पष्ट दिख जाएगा.