मेरे पिता के बारे में बात कीजिए, लेकिन राफेल पर भी जवाब दीजिए: राहुल गांधी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को ‘भ्रष्टाचारी नंबर 1’ कहने के जवाब में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को राफेल लड़ाकू विमान सौदे में कथित भ्रष्टाचार को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर फिर से हमला बोला.

मेरे पिता के बारे में बात कीजिए, लेकिन राफेल पर भी जवाब दीजिए: राहुल गांधी
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो, साभार - रॉयटर्स)

सिरसा (हरियाणा): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को ‘भ्रष्टाचारी नंबर 1’ कहने के जवाब में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को राफेल लड़ाकू विमान सौदे में कथित भ्रष्टाचार को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर फिर से हमला बोला.

उन्होंने कहा,‘लेकिन सबसे पहले यह तो बताइये कि राफेल मुद्दे पर आपने क्या किया. आपको दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने के अपने वादे को पूरा नहीं करने पर भी लोगों को जवाब देना चाहिए.’

राहुल गांधी ने बेरोजगारी के मुद्दे पर भी प्रधानमंत्री पर निशाना साधा और मोदी पर उनके उस बयान के लिये तंज कसा जिसमें उन्होंने कहा था कि ‘पकौड़ा बेचना’ भी एक तरह का काम है. एक चुनावी सभा में यहां राहुल गांधी ने कहा, ‘अगर आपको राजीव गांधी और मेरे बारे में बात करना है तो ऐसा जरूर कीजिए.’

'क्या आपने किसानों को उनके उत्पाद की सही कीमत दी' 
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा,‘क्या आपने किसानों को उनके उत्पाद की सही कीमत दी? क्या आपने उनके बैंक खातों में 15 लाख रुपये डाले?’ उन्होंने दावा किया कि भाजपा सरकार ने अपने चुनावी वादों को पूरा नहीं किया.

राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री के ‘उद्योगपति मित्र’ को राफेल सौदे से लाभ पहुंचाया गया. हालांकि, उनके इस आरोप को सरकार ने बार-बार खारिज किया है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ‘56 इंच का सीना’ होने की शेखी बघारते हैं लेकिन वह इन चुनावों में किसानों के मुद्दों और बेरोजगारी के मुद्दे पर बात नहीं कर रहे हैं.

पीएम मोदी न साधा था राजीव गांधी पर निशाना
हाल में अपने भाषण में मोदी ने राजीव गांधी के प्रधानमंत्री के तौर पर उनके कार्यकाल को याद किया था और उनके खिलाफ लगे भ्रष्टाचार के आरोपों का जिक्र किया था. साथ ही उन्होंने आरोप लगाया था कि आईएनएस विराट का राजीव गांधी ने परिवार के संग छुट्टियां मनाने के लिये किया था. 

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में राजीव गांधी के प्रधानमंत्री रहते हुए उस समय हुए सिख विरोधी दंगों का भी जिक्र किया था जब अपनी (राजीव गांधी की) मां इंदिरा गांधी की हत्या के बाद उन्होंने प्रधानमंत्री के तौर पर कार्यभार संभाला था.

राहुल गांधी ने दावा किया कि कांग्रेस ने पंजाब, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में किसानों की कर्जमाफी का जो वादा किया था उसे पूरा किया. उन्होंने दावा किया कि जब मध्य प्रदेश में चुनावी सभा में भाजपा के एक नेता ने सवाल किया कि क्या यहां की कांग्रेस सरकार ने किसानों का कर्ज माफ किया है, तो भीड़ ने जवाब में कहा, ‘हां, यह किया गया है.’

'देश में बेरोजगारी पिछले चार दशकों में सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंची' 
राहुल ने दावा किया कि देश में बेरोजगारी पिछले चार दशकों में सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गई है. ‘यही मोदी का योगदान है.’ उन्होंने केंद्र में भाजपा सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाओं का माखौल उड़ाते हुए कहा, ‘‘मेक इन इंडिया, स्टार्ट अप इंडिया, सिट डाउन इंडिया, पकौड़ा.... शुरू में उन्होंने ‘मेक इन इंडिया’ की बात की फिर ‘स्टार्ट अप इंडिया’ की बात की, इसके बाद ‘स्टैंड अप इंडिया’ की बात की और आखिर में वह ‘पकौड़ा’ पर जाकर रुके.’

पिछले साल एक इंटरव्यू में प्रधानमंत्री ने उदाहरण दिया था कि पकौड़ा बेचना भी एक तरह का रोजगार है. राहुल गांधी ने मोदी पर नफरत फैलाने का भी आरोप लगाया.

राहुल ने कहा,‘वह जहां भी जाते हैं, वहां नफरत होती है. हरियाणा में एक समुदाय को दूसरे के खिलाफ लड़ाया जा रहा है. जब वह तमिलनाडु जाते हैं तो वह किसी और की आलोचना करते हैं. महाराष्ट्र में वह उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों के खिलाफ बोलते हैं. एक धर्म के लोगों को दूसरे धर्म के लोगों के साथ लड़ाया जा रहा है.’ उन्होंने प्रधानमंत्री से पूछा कि उनके कार्यकाल में क्या हासिल किया गया है.

राहुल ने कहा, ‘मैं आपसे पूछना चाहता हूं कि पिछले पांच साल में आपने क्या क्या किया. आपने देश को क्या दिया है?’ उन्होंने दावा किया कि अगर कांग्रेस सत्ता में आयी तो उसने आय समर्थन योजना ‘न्याय’ का जो वादा किया है, उससे अर्थव्यवस्था में सुधार होगा जिसे नोटबंदी की वजह से झटका पहुंचा है.

'मध्यम वर्ग या किसी अन्य तबके से एक पैसा भी नहीं लिया जाएगा'
उन्होंने कहा,‘मैं आपको गारंटी देता हूं कि मध्यम वर्ग या किसी अन्य तबके से एक पैसा भी नहीं लिया जाएगा और ‘न्याय’ योजना के लिये उनसे कोई कर नहीं लिया जाएगा.’  उन्होंने कहा कि योजना के लिये धन उन धनी उद्योगपतियों की जेब से आयेगा जिन्हें मोदी के शासन में अनुचित लाभ दिया गया है. बता दें भाजपा ने इस योजना की आलोचना की है और जानना चाहा है कि इसके लिये धन कहां से जुटाया जाएगा.

राहुल गांधी हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर के समर्थन में यहां एक रैली को संबोधित कर रहे थे. तंवर सिरसा से चुनाव लड़ रहे हैं. तंवर इंडियन नेशनल लोक दल के मौजूदा सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी और भारतीय जनता पार्टी की सुनीता दुग्गल के खिलाफ चुनाव मैदान में हैं.

कांग्रेस के हरियाणा के प्रभारी महासचिव गुलाम नबी आजाद ने भी जनसभा को संबोधित किया. हरियाणा में 10 लोकसभा सीटों के लिये छठे चरण में 12 मई को मतदान होगा.