INS विराट से आखिर कहां छुट्टियां मनाने सपरिवार गए थे राजीव गांधी, जिसका जिक्र PM मोदी ने किया

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आरोप लगाते हुए कहा कि जब राजीव गांधी प्रधानमंत्री थे तो गांधी परिवार युद्धपोत आईएनएस विराट का उपयोग ‘‘निजी टैक्सी’’ के रूप में करता था. लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि पीएम मोदी राजीव गांधी की जिस ट्रिप की बात कर रहे थे, वो कौन सी थी.

INS विराट से आखिर कहां छुट्टियां मनाने सपरिवार गए थे राजीव गांधी, जिसका जिक्र PM मोदी ने किया
पीएम मोदी ने राजीव गांधी की छुट्टियों का किया जिक्र. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को दिल्‍ली के रामलीला मैदान से कांग्रेस और गांधी परिवार को आड़े हाथों लिया. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आरोप लगाते हुए कहा कि जब राजीव गांधी प्रधानमंत्री थे तो गांधी परिवार युद्धपोत आईएनएस विराट का उपयोग ‘‘निजी टैक्सी’’ के रूप में करता था. इससे पहले भी मोदी ने राजीव गांधी को ‘भ्रष्टाचारी नंबर 1’ करार दिया था. लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि पीएम मोदी राजीव गांधी की जिस ट्रिप की बात कर रहे थे, वो कौन सी थी.

 

पीएम मोदी ने यह भी कहा था कि गांधी परिवार को लेने के बाद आईएनएस विराट एक आईलैंड पर 10 दिनों तक रुका था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीएम मोदी ने राजीव गांधी के सपरिवार युद्धपोत आईएनएस विराट से जिस छुट्टी मनाने का जिक्र किया, वो 1987 का मामला था.

 

इन रिपोर्ट्स के उस साल राजीव गांधी ने परिवार और कुछ दोस्‍तों के साथ लक्षद्वीप के बंगाराम आईलैंड पर 10 दिनों की छुट्टी मनाई थी. पीएम मोदी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इस बाबत एक लिंक भी शेयर किया है. पीएम मोदी ने यह भी आरोप लगाया था कि राजीव गांधी के साथ इस दौरान इटली से आए उनके ससुराल के लोग भी थे. उन्‍होंने कहा कि एक युद्धपोत पर विदेशियों के मौजूद होने से देश की सुरक्षा को खतरे में डालने को लेकर भी सवाल उठते हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक छुट्टियों के दौरान राजीव गांधी के साथ राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, सोनिया गांधी समेत उनके कई दोस्‍त थे. इसके अनुसार उनके साथ बच्‍चन परिवार भी मौजूद था.

यह भी पढ़ें : Rajiv Gandhi, INS Viraat and a trip to Lakshadweep: How a 1987 vacay came back to haunt Congress

प्रधानमंत्री ने दावा किया है कि राजीव गांधी के नेतृत्व वाली तत्कालीन सरकार और नौसेना ने उनके परिवार एवं ससुराल पक्ष की मेजबानी की और उनकी सेवा में एक हेलीकाप्टर को भी लगाया गया. पीएम मोदी ने कहा, ‘‘आईएनएस विराट का इस्तेमाल एक निजी टैक्सी की तरह करके इसका अपमान किया गया. यह तब हुआ जब राजीव गांधी एवं उनका परिवार 10 दिनों की छुट्टी पर गये हुए थे. आईएनएस विराट को हमारी समुद्री सीमा की रक्षा के लिए तैनात किया गया था, किन्तु इसका मार्ग बदल कर गांधी परिवार को लेने के लिए भेजा गया जो अवकाश मना रहा था.’’ 

यह भी पढ़ें : PM मोदी ने कहा, 'गांधी परिवार ने युद्धपोत INS विराट का इस्‍तेमाल ‘निजी टैक्सी’ की तरह किया'

उन्होंने यह भी दावा किया कि गांधी परिवार को लेने के बाद आईएनएस विराट द्वीप पर 10 दिनों तक खड़ा रहा. पीएम मोदी ने सवाल किया, ‘‘राजीव गांधी के साथ उनके ससुराल के लोग भी थे जो इटली से आए थे. सवाल यह है कि क्या विदेशियों को एक युद्धपोत पर ले जाकर देश की सुरक्षा के साथ समझौता नहीं किया गया?’’

 

पीएम मोदी ने कहा, ‘‘क्या यह कभी कल्पना की जा सकती है कि भारतीय सशस्त्र सेनाओं के प्रमुख युद्धपोत का इस्तेमाल निजी अवकाश के लिए एक टैक्सी की तरह किया जाए ?’’विमान वाहक  आईएनएस विराट को भारतीय नौसेना में 1987 में सेवा में लिया गया था. करीब 30 वर्ष तक सेवा में रहने के बाद 2016 में इसे सेवा से अलग किया गया.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.