Breaking News
  • पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का निधन, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर दुख जताया
  • IPL 2020: KXIP vs RR Live Score Update, राजस्थान को मिला 224 रनों का लक्ष्य
  • IPL 2020: KXIP vs RR Live Score Update, राजस्थान रॉयल्स ने पंजाब को 4 विकेट से दी शिकस्त

लोकसभा चुनाव के रिजल्ट के बाद सारे 'चौकीदार' बेरोजगार हो जाएंगे : मीसा भारती

मीसा भारती ने आरोप लगाया कि पाटलिपुत्र की जनता से 2014 के चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार ने जो वादे किए थे उसे पूरा नहीं किया गया. 

लोकसभा चुनाव के रिजल्ट के बाद सारे 'चौकीदार' बेरोजगार हो जाएंगे : मीसा भारती
पटलिपुत्र लोकसभा सीट से बतौर आरजेडी प्रत्याशी चुनाव लड़ रही हैं मीसा भारती. (फाइल फोटो)

पटना : बिहार में पाटलिपुत्र लोकसभा सीट की लड़ाई बेहद दिलचस्प बनी हुई है. राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बड़ी बेटी मीसा भारती लोकसभा पहुंचने के लिए दूसरी बार यहां से प्रयास कर रही हैं. पहली बार 2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) प्रत्याशी और वर्तमान केंद्रीय मंत्री राम कृपाल यादव के हाथों उन्हें पराजित होना पड़ा था.

मीसा भारती इस बार जमकर पसीना बहा रही हैं. गांव-गांव जाकर वोट मांग रही हैं. वहीं, उनके समर्थकों में भी काफी उत्साह है. मीसा भारती ने कहा कि 2014 के बाद लगातार वो यहां से मेहनत कर रही हैं. क्षेत्र के आम लोगों की समस्या दूर करने की कोशिश कर कर रही हैं.

जी मीडिया से खास बातचीत के दौरान मीसा भारती ने आरोप लगाया कि पाटलिपुत्र की जनता से 2014 के चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार ने जो वादे किए थे जिसमें बेरोजगारों को नौकरी, किसानों की आय दोगुनी, कर्ज माफी और काले धन की वापसी शामिल है, उसे पूरा नहीं किया गया. आज जनता सवाल पूछ रही है.

मीसा भारती ने कहा कि एनडीए गठबंधन के पास कोई मुद्दा नहीं है. जब भी चुनाव आता है तो इन्हें मंदिर और राष्ट्रवाद का मुद्दा याद आता है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि महागठबंधन के पास मुद्दे की कोई कमी नहीं है. हम जनहित के मुद्दे उठाते हैं.

मीसा भारती ने दावा किया कि महागठबंधन एकजुट है. चट्टानी एकता की तरह महागठबंधन के नेता सभी सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं. आरजेडी उम्मीदवार ने कहा कि हमारी लड़ाई व्यक्तिगत नहीं, बल्कि विचारधारा की है. बिहार में नीतीश कुमार की सरकार का 15 वर्ष पूरा होने जा रहा है. इस दौरान एक भी फैक्ट्री नहीं लगी. बालू जो मुख्य रोजगार रहा है, उसे भी नीतीश कुमार ने बंद कर दिया है. जनता में काफी आक्रोश है.

प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए मीसा भारती ने कहा कि जनता लालू यादव को न्याय दिलाएगी और एनडीए गठबंधन के नेता 23 तारीख के बाद जेल जाने वाले हैं. उन्होंने दावा किया कि पूरे बिहार में महागठबंधन के पक्ष में लहर चल रही है. रिजल्ट के बाद जितने भी चौकीदार हैं और वह अपना रोजगार खो बैठेंगे. साथ ही मीसा भारती ने कहा कि नीतीश कुमार को जवाब अभी भी मिल रहा है और 2020 के विधानसभा चुनाव में भी बिहार की जनता अच्छे से सबक सिखा देगी.

मीसा भारती ने दवा किया है कि तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव के बीच कोई मनमुटाव नहीं है. उन्होंने कहा कि परिवार में कोई भी मतभेद नहीं है. यह विपक्ष और मीडिया के लिए मुद्दा हो सकता है.