close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

RLSP के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव ने कहा- 'उपेंद्र कुशवाहा ने तीन बार बेचा है मोतिहारी सीट'

आरएलएसपी के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव प्रदीप मिश्रा ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा की एक ही नीति रही है 'पैसे लाओ टिकट पाओ'.

RLSP के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव ने कहा- 'उपेंद्र कुशवाहा ने तीन बार बेचा है मोतिहारी सीट'
प्रदीप मिश्रा ने कहा उपेंद्र कुशवाहा हैं सबसे बड़े भ्रष्ठ नेता.

नई दिल्लीः बिहार में महागठबंधन के सहयोगी दल आरएलएसपी ने अपने पांच पर सीटों के उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है. जिनमें से दो सीट पर खुद उपेंद्र कुशवाहा खुद चुनाव लड़ने की बात कही है. वहीं, मोतिहारी सीट (प.चंपारण) पर कांग्रेस नेता अखिलेश सिंह के बेटे आकाश सिंह को उम्मीदवार बनाया है. जिसके बाद से बिहार की सियासत में उबाल आ गया है. वहीं, इस फैसले से उपेंद्र कुशवाहा घिरते नजर आ रहा है.

कांग्रेस नेता अखिलेश सिंह के बेटे आकाश सिंह को आरएलएसपी से टिकट मिलने पर कांग्रेस के अंदर ही घमासान मच गया है. कांग्रेस कार्याकर्ता अखिलेश सिंह पर टिकट बेचने और धांधली कर आरएलएसपी से अपने बेटे को टिकट दिलाने का आरोप लगा रहे हैं. वहीं, उपेंद्र कुशवाहा पर टिकट के लिए पैसे लेने का आरोप लगाया जा रहा है.

आरएलएसपी के पूर्व महासचिव प्रदीप मिश्रा और राजीव जायसवाल ने उपेंद्र कुशवाहा पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उनका कहना है कि उपेंद्र कुशवाहा की एक ही नीति रही है 'पैसे लाओ टिकट पाओ' इसी सिद्धांत पर उन्होंने पार्टी का निर्माण ही किया था. वह इतने भ्रष्ट हो गए हैं कि वह एक ही टिकट को तीन-तीन बार बेच रहे हैं.

उन्होंने बताया कि मोतिहारी सीट को उपेंद्र कुशवाहा ने तीन बार बेचा है. प्रदीप मिश्रा ने बताया कि कुशवाहा ने पहले इस सीट के लिए 12 से 15 करोड़ रुपये खर्च करवाए. इसके बाद आरएलएसपी के राष्ट्रीय महासचिव माधव आनंद से भी 9 से 10 करोड़ रुपये खर्च कराए. लेकिन अब उपेंद्र कुशवाहा ने इस टिकट को अखिलेश सिंह के बेटे आकाश को दिया जो आरएलएसपी का सदस्य भी नहीं है.

उन्होंने यह भी कहा कि बेतिया सीट का भी उन्होंने इसी तरह से सौदेबाजी की है. उन्होंने ब्रजेश कुशवाहा जो बिल्डर है उन्हें टिकट दिया है जबकि वह भी पार्टी का सदस्य नहीं है.

वहीं, राजीव जायसवाल ने कहा कि उन्होंने पूरे बिहार नार्थ इस्ट में पार्टी के लिए काम किया. उन्होंने कार्यकर्ताओं को नाकार दिया है. उपेंद्र कुशवाहा पैसे के लिए कुछ भी कर सकते हैं. वह पार्टी के लिए कुछ भी नहीं कर रहे हैं.

प्रदीप मिश्रा ने कहा है कि अब बिहार में जिस सीट पर आरएलएसपी के उम्मीदवार होंगे. उनके खिलाफ प्रचार करेंगे और उनके सभी उम्मीदवारों की जमानत जब्त कराने का काम करेंगे. उपेंद्र कुशवाहा के भ्रष्ट नीतियों का प्रचार करेंगे.