कलेक्टर ऑफिस पहुंचीं साध्वी प्रज्ञा, बोलीं- मुहूर्त का फॉर्म भरने आई हूं, कल फिर आऊंगी

कार्यालय में साध्वी प्रज्ञा के नामांकन की तैयारियों के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी कार्यालय में मौजूद रहे. इनके साथ ही साध्वी के वकील और BJP के कई पदाधिकारी इस बैठक का हिस्सा बने.

कलेक्टर ऑफिस पहुंचीं साध्वी प्रज्ञा, बोलीं- मुहूर्त का फॉर्म भरने आई हूं, कल फिर आऊंगी
साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर भोपाल कलेक्टर ऑफिस पहुंची हैं, जहां साध्वी प्रज्ञा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि 'अभी मुहूर्त का फॉर्म भरने आई हूं. कल फिर आऊंगी नामांकन भरने.' साध्वी प्रज्ञा यहां मुहूर्त के अनुसार नामांकन दाखिल करने पहुंची हैं, जहां वह 11 पंडितों के मंत्रोच्चार के साथ नामांकन कर रही हैं. बता दें साध्वी प्रज्ञा 4 सेट में नामांकन फॉर्म जमा करेंगी. जिनमें दो 2 सेट उन्होंने आज जमा कर दिए, जबकि बाकि के 2 सेट वह कल जमा करेंगी. कार्यालय में साध्वी प्रज्ञा के नामांकन की तैयारियों के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी कार्यालय में मौजूद रहे. इनके साथ ही साध्वी के वकील और BJP के कई पदाधिकारी इस बैठक का हिस्सा बने.

नामांकन दाखिल करने के ऐलान के साथ ही साध्वी प्रज्ञा ने कहा था कि अब सभी को काम मे जुटना होगा, बाकी बाते बाद में होंगी. इससे पहले साध्वी प्रज्ञा को भोपाल से लोकसभा चुनाव का टिकट मिलने पर स्थानीय नेता विरोध जता रहे थे, लेकिन इन सब के बीज प्रदेश संगठन ने स्थानीय नेताओं को यह बात समझा दी कि साध्वी प्रज्ञा प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह का फैसला हैं. बैठक के दौरान RSS ने भोपाल के अपने स्वयं सेवकों अनुसांगिक संगठन और पदाधिकारियों को साफ कह दिया है यह संघ का टिकट है इसलिए वोटिंग में कही कोई ढिलाई नही होनी चाहिए.

साध्वी प्रज्ञा पर बोले CM भूपेश- BJP की वॉशिंग मशीन से धुलकर आतंक की 1 आरोपी देशभक्त बनकर निकली है

बता दें हाल ही में साध्वी प्रज्ञा के मुंबई हमले में शहीद हेमंत करकरे पर दिए विवादित बयान के बाद कई नेता उनके चुनाव लड़ने पर आपत्ति जाहिर कर चुके थे. विपक्षी पार्टियों के अलावा खुद भाजपा में भी साध्वी प्रज्ञा के चुनाव लड़ने पर काफी आपत्ति जताई जा रही थी, लेकिन केंद्र ने साफ कर दिया था कि भोपाल लोकसभा सीट से अब साध्वी प्रज्ञा ही भाजपा का चेहरा होंगी. साध्वी के भोपाल लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने पर सवाल करते हुए बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा था कि 'चुनाव आयोग उनका नामांकन रद्द क्यों नहीं कर रहा है.'

प्रिया दत्त ने की साध्वी प्रज्ञा की निंदा, BJP नेता बोलीं- 'देशद्रोही भाई का विरोध भी करो मैडम'

एक ट्वीट के जरिए उन्होंने कहा था कि भोपाल से 'बीजेपी प्रत्याशी व मालेगांव ब्लास्ट आरोपी साध्वी प्रज्ञा का दावा है कि वे ’धर्मयुद्ध’ लड़ रही हैं। यही है बीजेपी/आरएसएस का असली चेहरा जो लगातार बेनकाब हो रहा है। लेकिन आयोग केवल नोटिसें ही क्यों जारी कर रहा है व बीजेपी रत्न प्रज्ञा का नामांकन क्यों नहीं रद्द कर रहा है?'