close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'साध्वी प्रज्ञा पर हिंदू आतंकवाद के आरोप लगाकर उन पर जुल्म किए गए'- इंद्रेश कुमार

 'साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर हिंदू आतंकवाद का आरोप लगाकर उन पर जुल्म किए गए, लेकिन अब उन पर लगे सभी आरोप खारिज हो चुके हैं और मुकदमे खत्म हो चुके हैं. उन्हें बेल मिल चुकी है. एजेंसी उन्हें गुनहगार साबित नहीं कर सकी.'

'साध्वी प्रज्ञा पर हिंदू आतंकवाद के आरोप लगाकर उन पर जुल्म किए गए'- इंद्रेश कुमार
आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार (फाइल फोटो)

नई दिल्लीः राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के वरिष्ठ पदाधिकारी इंद्रेश कुमार ने जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला पर निशाना साधा है. कुमार ने कहा कि ''फारूक अब्दुल्ला या अन्य मजहबी नेता हिंदुस्तान के लिए बेइमान हैं. वह इस्लाम के लिए भी वफादार नहीं हैं. जम्मू कश्मीर के लिए अलग राष्ट्रपति की बात कहने वाले देशद्रोही हैं. उन पर मुकदमा चलना चाहिए.'' वहीं साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को भोपाल लोकसभा सीट से टिकट मिलने पर उन्होंने कहा कि 'साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर हिंदू आतंकवाद का आरोप लगाकर उन पर जुल्म किए गए, लेकिन अब उन पर लगे सभी आरोप खारिज हो चुके हैं और मुकदमे खत्म हो चुके हैं. उन्हें बेल मिल चुकी है. एजेंसी उन्हें गुनहगार साबित नहीं कर सकी.'

उन्होंने आगे कहा कि ''जिन्होंने भगवा और हिन्दू को आतंकवाद के रूप में पेश करने का पाप किया है, एक संन्यासी पर जुल्म किया, उनके लिए प्रायश्चित का समय आ गया है. दिग्विजय सिंह को अब कांग्रेस को उम्मीदवारी वापस लेकर अपने अपने पापों को धो लेना चाहिए. मैं साध्वी प्रज्ञा की जीत के लिए कामना करता हूं.''

साक्षी महाराज बोले, 'BJP ने नारी शक्ति का किया सम्मान, इसलिए प्रज्ञा ठाकुर को दिया टिकट'

वहीं पश्चिम बंगाल के दिनाजपुर में बांग्लादेशी एक्टर फिरदौस अहमद के टीएमसी उम्मीदवार कन्हैयालाल अग्रवाल के प्रचार करने पर ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए इंद्रेश कुमार ने कहा कि ''इस बात ने बता दिया है कि ममता हिन्दुस्तानी कम और विदेशी ज्यादा हैं. ममता हिन्दुस्तानी मुसलमानों की नहीं बल्कि बांग्लादेशी मुसलमानों के हितौशी हैं, वह विदेशियों की हितैशी हैं.''

Video: मुंबई आतंकवादी हमले के शहीद हेमंत करकरे पर साध्वी प्रज्ञा का विवादित बयान

उन्होंने आगे कहा कि ''ममता बनर्जी विदेशियों से सांठगांठ करती हैं. उनके प्रचार पर रोक लगाना चाहिए और ऐसी पार्टियों के पंजीकरण खत्म कर देना चाहिए.'' वहीं स्टेच्यू ऑफ यूनिटी पर इंद्रेश ने कहा कि ''यह नेहरू का अनादर नहीं है. कांग्रेस एंटी हिंदुस्तानी है, क्योंकि उन्होंने हिन्दुस्तान तोड़ा है. जो कहते हैं कि स्टेच्यू ऑफ यूनिटी नेहरू का अपमान है, वह झूठ बोलते हैं. वहीं मुख्तार अब्बास नकवी को मिली चुनाव आयोग की चेतावनी पर कुमार ने कहा कि 'इसकी शुरुआत राहुल और प्रियंका ने की थी. पार्टी और नेताओं की इज्जत करके राजनीति करना चाहिए.'