close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने जा रहे BSF से बर्खास्त जवान ने खुद को बताया 'असली चौकीदार'

यादव ने कहा कि पीएम ने कहा था कि पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों को शहीदों का दर्जा दिया जाएगा, उन्हें पेंशन दी जाएगी. उनके द्वारा किये गये कितने वादे पूरे हुए यह सवाल मैं उनसे पूछूंगा. 

पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने जा रहे BSF से बर्खास्त जवान ने खुद को बताया 'असली चौकीदार'
फोटो सौजन्य: ANI

वाराणसी: सैनिकों को दिए जाने वाले भोजन की गुणवत्ता की शिकायत करते हुए ऑनलाइन वीडियो पोस्ट करने के मामले में 2017 में बर्खास्त किया गया जवान तेज बहादुर यादव लगातार चर्चा में बने हुए हैं. तेज बहादुर यादव ने रविवार को न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछूंगा कि उन्होंने जनता से जो वादे किये थे, उनमें से अबतक कितने पूरे हुए हैं. इससे पहले तेज बहादुर ने घोषणा की थी कि वह उत्तर प्रदेश के वाराणसी संसदीय निर्वाचन क्षेत्र से पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे.   

 

 

पीएम मोदी से पूछूंगा सवाल- तेज बहादुर
तेज बहादुर यादव ने कहा कि वाराणसी में बराबरी का चुनाव होगा. इसमें जनता के सामने एक तरफ असली चौकीदार है और दूसरी तरफ नकली चौकीदार है. यादव ने कहा कि पीएम ने कहा था कि पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों को शहीदों का दर्जा दिया जाएगा, उन्हें पेंशन दी जाएगी. उनके द्वारा किये गये कितने वादे पूरे हुए यह सवाल मैं उनसे पूछूंगा. 

 

 

भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए लड़ूंगा लोकसभा चुनाव- यादव
हरियाणा के रेवाड़ी में रहने वाले तेज बहादुर यादव ने कहा था, 'मैं वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लडूंगा.' यादव ने कहा था कि वह भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए चुनाव लड़ना चाहते हैं. उन्होंने कहा, 'मैंने भ्रष्टाचार का मामला उठाया लेकिन मुझे बर्खास्त कर दिया गया. मेरा पहला उद्देश्य (सुरक्षा) बलों को मजबूत करना और भ्रष्टाचार खत्म करना होगा.'

2017 में सोशल मीडिया पर यादव ने पोस्ट किया था वीडियो
गौरतलब है कि यादव ने 2017 में सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड किया था, जिसमें वह जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पहाड़ी इलाके के बर्फीले स्थान पर सैनिकों को मिलने वाले भोजन की गुणवत्ता की शिकायत करता नजर आ रहा था. इसके बाद उसे अनुशासनहीनता के आरोप में बर्खास्त कर दिया गया था.