close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तिरुवनंतपुरम सीट पर है मुकाबला है त्रिकोणीय, इन राजनेताओं के बीच है कांटे की टक्कर

तिरुवनंतपुरम में हिंदू आबादी का प्रभुत्‍व है. यहां करीब 67 फीसदी लोग हिंदू, 19 फीसदी ईसाई और 14 प्रतिशत मुस्लिम हैं. हिंदुओं में 39 फीसदी नैयर हैं.

तिरुवनंतपुरम सीट पर है मुकाबला है त्रिकोणीय, इन राजनेताओं के बीच है कांटे की टक्कर
फाइल फोटो

नई दिल्ली : केरल के तिरुवनंतमपुरम लोकसभा सीट से  कांग्रेस, बीजेपी और ट्रेड यूनियन द्वारा दिग्गज उतारे जाने के कारण यह सीट काफी सुर्खियों में हैं. विपक्षी कांग्रेस के नेतृत्‍व वाले यूडीएफ ने शशि थरूर को टिकट दिया है. वहीं, बीजेपी ने कुम्‍मनम राजशेखरन और ट्रेड यूनियन नेता रहे सी दिवाकरन पर दांव लगाकर मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है. 

हिंदू आबादी का है प्रभुत्व
तिरुवनंतपुरम में हिंदू आबादी का प्रभुत्‍व है. यहां करीब 67 फीसदी लोग हिंदू, 19 फीसदी ईसाई और 14 प्रतिशत मुस्लिम हैं. हिंदुओं में 39 फीसदी नैयर हैं. इसके बाद एझवास 27 प्रतिशत, नाडार 4 प्रतिशत और विश्‍वकर्मा 6 फीसदी हैं. इस जातिगत आंकड़े के अलग राजशेखरन ने संदेह जताया है कि एलडीएफ और यूडीएफ के बीच उन्‍हें हराने के लिए पर्दे के पीछे डील हो गई है. 

लोकसभा चुनावों से पहले केरल में सबरीमाला का मुद्दा छाए रहने के कारण बीजेपी को उम्मीद है कि हिंदू वोट उनके पक्ष में जाएंगे. हालांकि राजशेखरन के मुताबिक केवल सबरीमाला मुद्दे पर फोकस नहीं रहेगा. उन्‍होंने कहा, ' इस इलाके के विकास पर मेरा जोर रहेगा. अन्‍य राज्‍यों के राजधानियों से तुलना करें तो हमारे पास क्‍या है? हम विकास में अभी भी पिछड़ हुए हैं.