close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

प्रयागराज: पुल पर चढ़ा युवक, बोला 'जब तक लैंडर का विक्रम से संपर्क नहीं होगा नीचे नहीं उतरुंगा'

Prayagraj: घंटो मशक्कत के बाद पिलर पर चढ़े युवक ने एक लोहे की प्लेट में बांधकर पन्ने में लिखकर अपना संदेश भेजा, जिसमें लिखा था कि जब तक चंद्रयान-2 का लैंडर विक्रम से इसरो का सम्पर्क नहीं हो जाता है. तब-तक वो पिलर पर ही रहकर चंद्रदेव से प्रार्थना करेगा. 

प्रयागराज: पुल पर चढ़ा युवक, बोला 'जब तक लैंडर का विक्रम से संपर्क नहीं होगा नीचे नहीं उतरुंगा'
जानकारी के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और युवक को समझाने की कोशिश की, लेकिन देर रात तक वह नीचे नहीं उतरा.

प्रयागराज: आपने अब तक पागल प्रेमी या सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए लोगों को टंकी पर चढ़कर प्रदर्शन करता देखा होगा. लेकिन उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के प्रयागराज (Prayagraj) में सोमवार (16 सितंबर) रात कुछ ऐसा हुआ, जिसने पुलिस (Police) प्रशासन के भी हाथ-पैर फूल दिए. देर रात तक ये हाई वोल्टेज ड्रामा देखने के लिए लोगों की भीड़ लगी रही.

दरअसल,  सोमवार की रात एक सनकी युवक का ड्रामा देखने को मिला. युवक हाथों में तिरंगा लेकर यमुना ब्रिज (Yamuna Bridge) के पिलर पर चढ़ गया. जैसे-जैसे लोगों को खबर लगी, वैसे-वैसे  ब्रिज पर लोगों का मजमा लगना शुरू हो गया. जानकारी के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और युवक को समझाने की कोशिश की, लेकिन देर रात तक वह नीचे नहीं उतरा.

घंटो मशक्कत के बाद पिलर पर चढ़े युवक ने एक लोहे की प्लेट में बांधकर पन्ने में लिखकर अपना संदेश भेजा, जिसमें लिखा था कि जब तक चंद्रयान-2 का लैंडर विक्रम से इसरो का सम्पर्क नहीं हो जाता है. तब-तक वो पिलर पर ही रहकर चंद्रदेव से प्रार्थना करेगा. 

लाइव टीवी देखें

युवक के संदेश मिलने के घंटों बाद भी देर रात क़रीब 11 बजे तक पुलिसकर्मी युवक को समझाकर नीचे उतारने की कोशिशों में लगे रहे. लेकिन पुलिसकर्मियों के मिन्नत का युवक पर कोई भी असर नहीं हुआ. तो पुलिस ने पहले वहां से भीड़ को उतारा और खुद भी वहां से चली गई.  युवक का नाम रजनीकांत है, जो प्रयागराज के यमुनापार के मांडा थाना इलाके का रहने वाला है.

बताया जा रहा है कि इससे पहले भी ये युवक पर्यावरण बचाने को लेकर यमुना ब्रिज के पिलर पर चढ़कर ड्रामा कर चुका है.