close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोलकाता का यह डिलीवरी ब्वॉय बदल रहा अनाथ बच्चों की जिंदगी

पथिकृत साहा कोलकाता में Zomato में डिलीवरी ब्वॉय के रूप में काम करते हैं. जो लोग ऑनलाइन खाना ऑर्डर करने के बाद उसे कैंसिल कर देते हैं, पथिकृत उस खाने को अनाथ बच्चों को खिलाते हैं.

कोलकाता का यह डिलीवरी ब्वॉय बदल रहा अनाथ बच्चों की जिंदगी
पथिकृत पिछले चार सालों से यह काम कर रहे हैं. (फोटो साभार Pathikrit Saha फेसबुक)

नई दिल्ली: कई बार ऐसा होता है कि आप कहीं जा रहे होते हैं, अचानक से कुछ अनाथ बच्चे आपसे खाने के लिए पैसे मांगने लगते हैं. कई बार आप उन्हें पैसे दे देते हैं, लेकिन ऐसे लोगों की संख्या बहुत कम होती है. ज्यादातर लोगों को  लगता है कि भीख मांगना उसकी मजबूरी नहीं है, बल्कि वह नशे की गिरफ्त में होता है और उसे पूरा करने के लिए भीख मांगता है. कुछ अनाथ बच्चे इसके भी शिकार होते हैं, इसमें भी कोई दो राय नहीं है. लेकिन, यह कहानी एक ऐसे शख्स की है जो इन बच्चों की भविष्य बनाने में लगा हुआ है.

पथिकृत साहा कोलकाता में Zomato में डिलीवरी ब्वॉय के रूप में काम करते हैं. जो लोग ऑनलाइन खाना ऑर्डर करने के बाद उसे कैंसिल कर देते हैं, पथिकृत उस खाने को अनाथ बच्चों को खिलाते हैं. इसके अलावा रेलवे स्टेशन पर ऐसे बच्चों के लिए स्पेशल क्लास भी चलाते हैं. पथिकृत ने एक पब्लिकेशन से इसको लेकर अपनी पूरी कहानी बताई.

https://scontent.fdel1-2.fna.fbcdn.net/v/t1.0-9/45754085_1787460368033076_7533582081264189440_n.jpg?_nc_cat=107&_nc_eui2=AeFZvn96UZPgwuS0VzCdBNn-3CByUHG-yywYoah8BV8CoxIlh1SQLy0JWWrSFpzToBIBL0LfabFPPKG3Lirnw-GewZLwfSL-AZJDH0fYLeDpwA&_nc_ht=scontent.fdel1-2.fna&oh=cb3d4f2992c2e309760c15d44ee0d6a5&oe=5D51B01F

उन्होंने कहा कि चार साल पहले मैं जब कोलकाता नगर निगम में काम कर रहा था, तब एक दिन बाजार से गुजर रहा था तो कुछ बच्चे मेरे पास आए और खाना के लिए पैसे मांगने लगे. गंदे कपड़े पहने बच्चों को देखकर मुझे लगा कि वे नशा करते हैं और पैसे भी इसी के लिए मांग रहे हैं. लेकिन, जब मुझे सच्चाई का पता चला तो मैंने उनकी जिंदगी बदलने का फैसला किया.

Zomato delivery boy from kolkata serve Cancelled Orders To Street Kids

इस घटना के बाद उन्होंने नगर निगम की नौकरी छोड़कर Zomato में डिलीवरी ब्वॉय की नौकरी ज्वाइन कर ली. अब जब कोई ऑर्डर किया हुआ खाना कैंसिल करता है तो मैं उस खाने को उन बच्चों को खिलाता हूं. रेलवे स्टेशन पर उन्हें पढ़ाता भी हूं. पथिकृत ने कहा कि धीरे-धीरे बच्चों में सुधार आया और कई बच्चे तो सरकारी स्कूल में अपना दाखिला ले लिया. उन्होंने अपना पूरी उर्जा ऐसे अनाथ बच्चों की जिंदगी सुधारने में लगा दी है.