General Bajwa ने रिटायरमेंट से पहले पाकिस्तान सेना को दिया सबक, जाते-जाते बता गए खास फॉर्मूला
topStories1hindi1462321

General Bajwa ने रिटायरमेंट से पहले पाकिस्तान सेना को दिया सबक, जाते-जाते बता गए खास फॉर्मूला

Pakistan Army: पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा (General Qamar Javed Bajwa) ने रिटायरमेंट से पहले पाकिस्तान सेना को सबक दिया है और सेना की शान में इजाफा करने के लिए एक फॉर्मूला भी सुझाया है.

General Bajwa ने रिटायरमेंट से पहले पाकिस्तान सेना को दिया सबक, जाते-जाते बता गए खास फॉर्मूला

General Qamar Javed Bajwa: पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा आज (29 नवंबर) रिटायर हो रहे हैं. जनरल बाजवा की जगह पाकिस्तान ने लेफ्टिनेंट जनरल असीम मुनीर (Asim Munir) को नया सेना प्रमुख नियुक्त किया है. बता दें कि जनरल बाजवा को तीन साल का सेवा विस्तार दिया गया था, जो 29 नवंबर को खत्म हो रहा है. रिटायरमेंट से पहले जनरल कमर जावेद बाजवा ने पाकिस्तान सेना (Pakistan Army) को सबक दिया है और जाते-जाते एक खास फॉर्मूला बता गए.

सेना ने सियासत से दूरी बनाने का किया फैसला: बाजवा

जनरल कमर जावेद बाजवा (General Qamar Javed Bajwa) ने कहा है कि सैन्य प्रतिष्ठान को 'अराजनीतिक' रखने के उनके फैसले से तख्तापलट की आशंका वाले देश में सेना 'राजनीति की अनिश्चितताओं' से बची रहेगी. बाजवा ने कहा कि मुल्क के 70 साल के इतिहास में पहली बार हमने सियासत से दूरी बनाने का फैसला किया है. बाजवा का मानना है कि इससे फौज की इज्जत बढ़ेगी और देश में लोकतंत्र मजबूत होगा.

सेना की शान बढ़ाने के लिए दिया फॉर्मूला

रिटायर होने से एक दिन पहले जनरल कमर जावेद बाजवा (General Qamar Javed Bajwa) ने सेना की शान में इजाफा करने के लिए एक फॉर्मूला भी सुझाया है. जनरल बाजवा के मुताबिक, इतिहास में पहली बार पाकिस्तानी सेना और सियासत में दूरी बनाने का फैसला लिया गया है. इससे सेना को गैर सियासी रखने का उनका फैसला तख्तापलट की आशंका वाले पाकिस्तान में राजनीतिक उतार-चढ़ाव के दुष्प्रभाव से सेना की रक्षा करेगा, जिसके बाद सेना की शान में यकीनन इजाफा होगा.

जनरल कमर जावेद बाजवा (General Qamar Javed Bajwa) ने UAE के अखबार ‘गल्फ न्यूज’ को दिए एक इंटरव्यू में इस बात का जिक्र किया है. मुझे ये मानने में कोई गुरेज नहीं है कि पाकिस्तान के तमाम फैसलों में फौज का अहम रोल रहा है. इतिहास गवाह है कि फौज का सियासत में दखल रहा है. शायद यही वजह है कि हमें एक इदारे के तौर पर कई बार कड़ी आलोचना का भी शिकार होना पड़ा है, फौज के सियासी मामलों में दखल नहीं देने के फैसले से जम्हूरियत को यकीनी बढ़ावा मिलेगा.

पाकिस्तान में कम हुआ है आतंकवाद: जनरल बाजवा

जनरल कमर जावेद बाजवा (General Qamar Javed Bajwa) ने इंटरव्यू में माना कि पाकिस्तान में आतंकवाद कम हुआ है. उन्होंने कहा कि हम चरमपंथ के खतरे और बचे हुए आतंकवाद को दूर करने के लिए सार्थक कोशिश करना जारी रखे हुए हैं. उन्होंने समाज में राजनीतिक असहिष्णुता के खिलाफ चेताया और इसे चिंताजनक बताया. जनरल बाजवा ने कहा, 'हम ऐसे समाज के लिए कोशिश करते रहेंगे, जो सहिष्णु हो, तर्कवादी हो और राजनीतिक विश्वास, आस्था, जातीयता या नस्ल के आधार पर भेदभाव नहीं करता हो.'

इमरान सरकार ने 3 साल के लिए बढ़ाया था कार्यकाल

जनरल कमर जावेद बाजवा (General Qamar Javed Bajwa) को साल 2016 में पाकिस्तान सेना (Pakistan Army) का प्रमुख नियुक्त किया गया था और उनका तीन साल का कार्यकाल साल 2019 में खत्म होने वाला था. हालांकि, तत्कालीन प्रधानमंत्री इमरान खान ने साल 2019 में बाजवा का कार्यकाल 3 साल के लिए बढ़ा दिया था. हालांकि, इमरान बाद में सेना के बड़े आलोचक बन गए थे.
(इनपुट- न्यूज एजेंसी भाषा)

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नही. 

Trending news