close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पीटीएम रैली: आतंकवाद रोधी कानून के तहत सैकड़ों नेता और कार्यकर्ता गिरफ्तार

''पीटीएम'' खैबर पख्तूनख्वा और बलूचिस्तान में स्थित पश्तून मानवाधिकारों के लिए लड़ाई लड़ने वाला एक सामाजिक आंदोलन है.

पीटीएम रैली: आतंकवाद रोधी कानून के तहत सैकड़ों नेता और कार्यकर्ता गिरफ्तार
पुलिस ने आरोप लगाया है कि आयोजकों ने थानाप्रभारी की नहीं सुनी और अराजकता का माहौल बनाया.(फाइल फोटो)

कराचीः पाकिस्तान में पश्तून तहफ्फुज आंदोलन (पीटीएम) के सैकड़ों नेताओं और कार्यकर्ताओं को सिंध पुलिस ने आतंकवाद रोधी कानून के तहत गिरफ्तार किया है. इन्होंने कराची के बाहर एक रैली का आयोजन किया था. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार पीटीएम नेताओं और कार्यकर्ताओं पर सोहराब गोथ में आयोजित रैली के दौरान ''सरकारी संस्थानों के खिलाफ अनुचित भाषा'' का इस्तेमाल करने का मामला दर्ज किया गया है. उन्होंने बताया कि सरकार ने सोहराब गोथ के थाना प्रभारी राव जाकिर के जरिए प्राथमिकी दर्ज कराई. ''पीटीएम'' खैबर पख्तूनख्वा और बलूचिस्तान में स्थित पश्तून मानवाधिकारों के लिए लड़ाई लड़ने वाला एक सामाजिक आंदोलन है.

'कंगाल' पाकिस्तान इस मामले में भारत से 20 गुना पीछे, लेकिन करना चाहता है बराबरी

प्राथमिकी के अनुसार, ''मंजूर पश्तीन के निर्देशों के अनुसार 'पीटीएम' ने एक मैदान में रैली का आयोजन किया. शिकायतकर्ता थानाप्रभारी ने जब मौके पर पहुंच इलाके के 'पीटीएम' अध्यक्ष नौरजे तारीन से प्रासंगिक अनुमति के दस्तावेज दिखाने को कहा तो वह बौखला गया. उसने आधिकारिक कार्यों में बाधा पैदा की और सरकारी संस्थानों एवं पुलिस के खिलाफ नारे भी लगाए.''

VIDEO: पाकिस्तानी पत्रकार की Funny रिपोर्टिंग वायरल, गधे पर बैठ कर रहे थे रिपोर्टिंग

पुलिस ने आरोप लगाया है कि आयोजकों ने थानाप्रभारी की नहीं सुनी और "गंभीर भय और अराजकता का माहौल बनाया''. पुलिस ने ''पाकिस्तान दंड संहिता'' और 7-एटीए (आतंकवाद रोधी कानून) के तहत 250 से 300 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है, जिनमें से 16 के नाम दर्ज किए गए हैं. 'पीटीएम' के शीर्ष नेता मोहसिन डावर ने ट्वीट कर गिरफ्तारी और उसके बाद आलमजेब महसूद के गायब होने की घटना की निंदा की. उन्होंने 'पीटीएम' के कार्यकर्ताओं और महसूद की तत्काल रिहाई की मांग की है

(इनपुट-भाषा)