ममता vs सीबीआई मामले में बंटी कांग्रेस, राहुल समर्थन में तो सांसद बोले-सीएम डाकुओं के साथ

राहुल गांधी ने इस घटनाक्रम के बाद ममता बनर्जी का समर्थन करते हुए कहा, हम आपके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं, लेकिन उनकी ही पार्टी के सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा, ममता बनर्जी डाकुओं और चोरों के साथ खड़ी हैं.

ममता vs सीबीआई मामले में बंटी कांग्रेस, राहुल समर्थन में तो सांसद बोले-सीएम डाकुओं के साथ

नई दिल्‍ली : पश्‍च‍िम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी सरकार और सीबीआई के बीच छिड़ी जंग के बीच कांग्रेस उलझ गई है. इस मामले में पश्‍च‍िम बंगाल कांग्रेस ने अपनी राय जहां ममता बनर्जी के खिलाफ दी है तो वहीं कांग्रेस आलाकमान बंगाल की सीएम के साथ खड़ा नजर आ रहा है. राहुल गांधी ने इस घटनाक्रम के बाद ममता बनर्जी का समर्थन करते हुए कहा, हम आपके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं, लेकिन उनकी ही पार्टी के सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा, ममता बनर्जी डाकुओं और चोरों के साथ खड़ी हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बनर्जी से फोन पर बात की और उनके प्रति अपना समर्थन व्यक्त करते हुए कहा कि पूरा विपक्ष एकजुट है और यह फासीवादी ताकतों को हराएगा. राहुल ने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल का घटनाक्रम भारत की संस्थाओं पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं भाजपा के निरंतर हमलों का हिस्सा है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस कंधे से कंधा मिलाकर ममता के साथ है.

कांग्रेस ने कहा कि कोलकाता में सीबीआई की कार्रवाई स्पष्ट तौर पर शक्ति का गलत इस्तेमाल करने और संघीय राजनीति पर ‘हमला’ करने जैसा है और यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा प्रमुख अमित शाह द्वारा सार्वजनिक तौर पर दी गई ‘धमकी’ के 48 घंटे के भीतर आया है. पार्टी के प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने कहा कि बनर्जी को लेकर नरेंद्र मोदी और शाह की दुर्भावना काफी जहरीली है. भाजपा और नरेंद्र मोदी राज्य में विवाद पैदा करने के लिए बेचैन हैं.

राज्‍य में कांग्रेस के दिग्‍गज नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, इस मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर जांच की जा रही है. लेकि‍न ममता बनर्जी डाकुओं और चोरों के साथ खड़ी हैं. ये कैसा राज्‍य है, जहां भ्रष्‍ट पुलिस अधिकारी के बचाव में वह धरना प्रदर्शन कर रही हैं. अधीर रंजन चौधरी ने कहा अब वक्‍त आ गया है कि‍ बंगाल में राष्‍ट्रपति शासन लगाया जाए.

अधीर रंजन चौधरी तृणमूल के कट्टर आलोचक
अधीर रंजन चौधरी ने तो साफ कर दिया है कि भले उनकी पार्टी आलाकमान की कुछ भी सोच हो, लेकिन वह सोचते हैं कि इस मामले में ममता बनर्जी गलत हैं, क्‍योंकि वह अपनी आंखों से रोजाना प्रदेश में गलत होता देख रहे हैं. बता दें कि अधीर रंजन चौधरी ही वह नेता हैं, जो कांग्रेस और तृणमूल के गठबंधन के सबसे ज्‍यादा खिलाफ हैं.