Remedies for Jupiter: रूठे बृहस्पति को मनाने के आज जरूर करें ये अचूक उपाय

देवगुरु बृहस्पति (Jupiter) किसी भी जातक को ज्ञान, बुद्धि, सौभाग्य, संतान आदि का आशीर्वाद प्रदान करते हैं. बृहस्पति की कृपा पाने के लिए आज गुरुवार को जरूर करें ये अचूक उपाय. इनसे आपको जरूर फायदा मिलेगा.

Remedies for Jupiter: रूठे बृहस्पति को मनाने के आज जरूर करें ये अचूक उपाय
प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: ज्योतिष के अनुसार, किसी भी मनुष्य के जीवन में 9 ग्रहों का बहुत प्रभाव पड़ता है. इन नवग्रहों में बृहस्पति ग्रह (Jupiter) का प्रमुख स्थान है. इन्हें देवताओं का गुरु माना जाता है. देवगुरु बृहस्पति धनु और मीन के स्वामी माने जाते हैं. इनकी कृपा से व्यक्ति को ज्ञान, बुद्धि, सौभाग्य, संतान आदि का सुख प्राप्त होता है. लेकिन यदि आपकी कुंडली में बृहस्पति संबंधी कोई दोष है तो आपको इन सभी फलों की प्राप्ति में तमाम तरह की बाधाएं आ सकती हैं.

यह भी पढ़ें- Navratra 2020: आज भगवती कात्यायनी का पूजन, जानें वो खास मंत्र जिससे मां होती हैं प्रसन्न

इसकी वजह से करियर-कारोबार में तमाम तरह की अड़चनें आने लगती हैं. यदि आपकी कुंडली में भी बृहस्पति रूठकर बैठे हुए हैं और आपको तमाम कोशिशों के बावजूद सफलता नहीं मिल रही है, शादी-ब्याह में दिक्कतें आ रही हैं तो आज देवगुरु का यह महाउपाय जरूर करें.

1. बृहस्पति की कृपा पाने के लिए आप उनका रत्न यानी पुखराज (Topaz) धारण कर सकते हैं. ज्योतिष के अनुसार, इन शक्तिशाली रत्नों के माध्यम से ग्रहों की अशुभता को बहुत हद तक दूर किया जा सकता है या फिर कहें कि उनके असर को कम किया जा सकता है. गुरु यानि बृहस्पति को बलवान बनाने के लिए पुखराज रत्न धारण करना अत्यंत शुभ होता है. इस रत्न को धारण करने से पहले एक बार किसी योग्य ज्योतिष से इसके भार एवं धारण करने की शुभ तिथि अवश्य जान लें.

यह भी पढ़ें- कोरोना काल में ऐसे करें कन्या पूजन, कन्याओं को दें ये उपहार

2. किसी भी ग्रह की शुभता को पाने और अशुभता को दूर करने के लिए दान एक बहुत ही प्रभावी उपाय है. ऐसे में गुरु की कृपा पाने के लिए आज बृहस्पतिवार के दिन चने की दाल, गुड़, घी, पीले पुष्प, सोना, पीला चंदन, पीले फल, धार्मिक पुस्तकें आदि का दान करने से बृहस्पतिदेव प्रसन्न होकर शुभ फल प्रदान करते हैं.

3. बृहस्पति देव की कृपा पाने और कुंडली में उन्हें बली बनाने के लिए केले की जड़ या हल्दी की गांठ को पीले कपड़े में सिलकर दाहिनी भुजा या गले में लॉकेट बनाकर पहनें. केले की जड़, हल्दी की गांठ को पूजा करके गुरुवार को पुष्य नक्षत्र के दिन सूर्योदय से सुबह 11 बजे के भीतर धारण करें. देवगुरु बृहस्पति का यह अत्यंत ही प्रभावी उपाय है.

यह भी पढ़ें- Rules For Worship : ईश्वर की पूजा के होते हैं खास नियम, भूलकर भी न करें ये गलतियां

4. देवगुरु की कृपा पाने के लिए आज बृहस्पतिवार के दिन एक चांदी की कटोरी में केसर रखें और उसका चंदन बनाकर भगवान विष्णु को लगाएं. इसके पश्चात बचे हुए चंदन को भगवान विष्णु का प्रसाद मानते हुए अपने माथे पर धारण करें. इस उपाय से आपको बृहस्पति देव की कृपा मिलने लगेगी.

धर्म संबंधी अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें