close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Australian Open: राफेल नडाल 5वीं बार फाइनल में, जोकोविच से हो सकता है खिताबी मुकाबला

स्पेन के राफेल नडाल ने सेमीफाइनल में ग्रीस के उभरते हुए खिलाड़ी 20 साल के स्टाफांसो सितसिपास को हराया. 

Australian Open: राफेल नडाल 5वीं बार फाइनल में, जोकोविच से हो सकता है खिताबी मुकाबला
राफेल नडाल 17 ग्रैंडस्लैम खिताब जीत चुके हैं. इनमें ऑस्ट्रेलियन ओपन का एक खिताब भी शामिल है. (फोटो: PTI)

मेलबर्न: ग्रीस के उभरते हुए टेनिस खिलाड़ी स्टाफांसो सितसिपास ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian open 2019) के सेमीफाइनल में एक और उलटफेर नहीं कर पाए. वर्ल्ड नंबर-2 राफेल नडाल ने उन्हें साल के पहले ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में बड़ी आसानी से हरा दिया. इसी के साथ नडाल ने पांचवीं बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया. 14वीं वरीयता प्राप्त सितसिपास चौथे दौर में गत चैंपियन और वर्ल्ड नंबर-3 रोजर फेडरर को हराकर क्वार्टर फाइनल में पहुंचे थे. यह इस युवा खिलाड़ी का दूसरा ऑस्ट्रेलियन ओपन टूर्नामेंट है. वे पिछले साल पहले ही राउंड में बाहर हो गए थे. 

स्पेन के राफेल नडाल ने गुरुवार (24 जनवरी) को स्टाफांसो सितसिपास को सीधे सेटों में 6-2, 6-4, 6-0 से मात दी. 20 साल के सितसिपास ने नडाल के खिलाफ एक घंटे 46 मिनट तक संघर्ष किया, लेकिन ऐसा कभी नहीं लगा कि वे मैच जीत सकते हैं. नडाल ने लगातार 63 गेम तक अपनी सर्विस नहीं टूटने दी और फाइनल तक पहुंचने में एक भी सेट नहीं गंवाया. वे पांचवीं बार ऑस्ट्रेलियाई ओपन फाइनल में पहुंचे हैं.

यह भी पढ़ें: टीम इंडिया के लिए राहत की खबर, हार्दिक पांड्या-केएल राहुल का प्रतिबंध खत्म

राफेल नडाल अब तक 17 ग्रैंडस्लैम खिताब जीत चुके हैं. लेकिन ऑस्ट्रेलियन ओपन में उन्हें सिर्फ एक बार ही खिताबी कामयाबी मिली है. उन्हें अपने दूसरे ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब के लिए फाइनल में वर्ल्ड नंबर-1 नोवाक जोकोविच से भिड़ना पड़ सकता है. सर्बिया के जोकोविच का दूसरे सेमीफाइनल में फ्रांस के लुकास पाउली से मुकाबला होना है. अपनी रैंकिंग और रिकॉर्ड को देखते हुए वे सेमीफाइनल में जीत के दावेदार हैं. 

राफेल नडाल ऑस्ट्रेलियन ओपन में आखिरी बार 2017 में फाइनल में पहुंचे थे, लेकिन तब वे जीत नहीं सके थे. उन्होंने अपना इकलौता ऑस्ट्रेलियन ओपन 2009 में जीता था. नडाल ने 2014, 2012 में भी फाइनल तक का सफर तय किया था लेकिन हार गए थे. जीत के बाद नडाल ने कहा, ‘यह शानदार मैच था. मैने बहुत अच्छा खेला क्योंकि दर्शकों से मुझे काफी ऊर्जा मिली.’ नडाल यहां खिताब जीतने पर ओपन युग में सभी ग्रैंडस्लैम दो बार जीतने वाले पहले खिलाड़ी बन जाएंगे.

यह भी पढ़ें: पेत्रा क्वितोवा और ओसाका ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में पहली बार पहुंचीं, नई चैंपियन मिलना तय

महिला सिंगल्स की बात करें तो चेक रिपब्लिक की पेत्रा क्वितोवा ने फाइनल में जगह बना ली है. उन्होंने साल के इस पहले ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट के फाइनल में पहली बार जगह बनाई है. उनका खिताबी मुकाबला जापान की नाओमी ओसाका से होगा. ओसाका भी पहली बार ही इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची हैं.

(इनपुट: आईएएनएस/भाषा)