क्रुणाल पांड्या ने जैकब मार्टिन की मदद के लिए दिया ब्लैंक चेक, कहा - जितना चाहिए, भर लीजिए

पूर्व भारतीय क्रिकेटर जैकब मार्टिन वडोदरा के एक अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं. 

क्रुणाल पांड्या ने जैकब मार्टिन की मदद के लिए दिया ब्लैंक चेक, कहा - जितना चाहिए, भर लीजिए
क्रुणाल ने इसी सीजन में अंतरराष्ट्रीय टी-20 में डेब्यू किया है...

नई दिल्ली: पूर्व भारतीय क्रिकेटर जैकब मार्टिन वडोदरा के एक अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं. 28 दिसंबर को एक सड़क दुर्घटना में वह गंभीर रूप से घायल हो गए थे. फेफड़ों और लीवर में चोट के बाद वह फिलहाल वेंटिलेटर पर हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक, मार्टिन की पत्नी ख्याति ने बीसीसीआई से मदद की गुहार लगाई है. बीसीसीआई ने 5 लाख रुपये की मदद प्रदान की है. बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन भी मदद के लिए आगे आया है और तीन लाख की मदद प्रदान की है. इसी बीच, हार्दिक पंड्या के छोटे भाई क्रुणाल पंड्या ने मार्टिन की मदद के लिए एक ब्लैंक चेक दिया है. मार्टिन बड़ौदा के रहने वाले हैं और क्रुणाल भी इसी शहर से आते हैं.

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने मार्टिन की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाए हैं. बड़ौदा क्रिकेट संघ के पूर्व सचिव संजय पटेल मार्टिन के परिवार की मदद करने वाले पहले लोगों में से थे. पटेल ने ही सौरव गांगुली की मुलाकात ख्याति से करवाई थी. गांगुली ने कहा, “मैंने श्रीमती मार्टिन से कहा है कि अगर उन्हें आगे भी मदद की जरूरत हो तो बेहिचक मुझसे संपर्क करें." 

'1 लाख से कम रुपये न भरें चेक में'
अब हार्दिक पंड्या के छोटे भाई क्रुणाल पंड्या ने मार्टिन की मदद के लिए एक ब्लैंक चेक दिया है. टेलीग्राफ के मुताबिक, पंड्या ने ब्लैंक चेक देते हुए कहा, "सर, कृपया इस चेक में जितने भी पैसे की आवश्यक हो भरें, लेकिन 1 लाख रुपये से कम नहीं." क्रुणाल ने इसी सीजन में अंतरराष्ट्रीय टी-20 में डेब्यू किया है. 

मार्टिन ने वनडे में सौरव गांगुली की कप्तानी में अपना डेब्यू वर्ष 1999 में वेस्टइंडीज के खिलाफ किया था. उन्होंने भारत को लिए 10 वनडे मैच खेले हैं. 138 फर्स्ट क्लास मैच भी खेले जिसमें उन्होंने 9192 रन बनाए और उनका औसत 47 का रहा. उन्होंने भारत के लिए अपना आखिरी वनडे मैच 17 अक्टूबर 2001 में केन्या के खिलाफ पोर्ट एलिजाबेथ में खेला था.

jacob martin

संजय पटेल ने बताया, "मार्टिन का परिवार असमंजस में था कि मदद के लिए अपील करे या न करें. आज स्थिति यह है कि उन्हें कुछ मांगने की जरूरत नहीं है. क्रिकेट जगत से जुड़े कई लोग मदद के लिए आगे आ रहे हैं. पटेल को भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री की ओर से भी मदद का आश्वासन मिला है. पटेल के मुताबिक, जहीर खान ने रविवार को मदद के लिए कॉल किया और मदद का भरोसा दिया.