close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Australian Open: जोकोविच ने 7वीं बार खिताब जीतकर रचा इतिहास, फाइनल में नडाल को हराया

विश्व के नंबर एक खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने सातवीं बार ऑस्ट्रेलियन ओपन जीत लिया. 

Australian Open: जोकोविच ने 7वीं बार खिताब जीतकर रचा इतिहास, फाइनल में नडाल को हराया
जोकोविच सातवीं बार ऑस्ट्रेलियन ओपन खिलाड़ी जीतने वाले पहले खिलाड़ी हैं. (फोटो: Reuters)

मेलबर्न: ऑस्ट्रेलियन ओपन में विश्व के नंबर एक खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने इतिहास रचते हुए सातवीं बार खिताब अपने नाम कर लिया. जोकोविच ऐसा करने वाले इतिहास के पहले खिलाड़ी हैं. जोकोविच ने रॉय एमर्सन और रोजर फेडरर को पीछे छोड़ा. इन दोनों ने अब तक छह-छह बार ऑस्ट्रेलियन ओपन जीता था. जोकोविच ने फाइनल मैच में राफेल नडाल को सीधे सेटों में 6-3 6-2 6-3 से हराया. 

सर्बिया के खिलाड़ी जोकोविच का यह 15वां ग्रैंड स्लैम टाइटल है. वहीं पिछले साल विंबलडन 2018 का खिताब जीतने के बाद उनका यह तीसरा ग्रैंड स्लैम खिताब है. जोकोविच और नडाल के बीच यहां 53वां मुकाबला था जबकि ये दोनों खिलाड़ी आठवीं बार किसी ग्रैंडस्लैम फाइनल में आमने सामने थे. दोनों खिलाड़ियों के बीच अब तक हुए मुकाबलों में जोकोविच की यह 28वीं जीत है जबकि नडाल ने 25 मैच ही जीत सके हैं. 

सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने शुक्रवार (25 जनवरी) को सेमीफाइनल में शानदार प्रदर्शन करते हुए फ्रांस के लुकास पाउली को सीधे सेटों में 6-0, 6-2, 6-2 से मात दी. राफेल नडाल ने ग्रीस के उभरते हुए टेनिस खिलाड़ी स्टाफांसो सितसिपास को हराकर फाइनल में जगह बनाई है. 14वीं वरीयता प्राप्त सितसिपास वही खिलाड़ी हैं, जिन्होंने चौथे दौर में गत चैंपियन और वर्ल्ड नंबर-3 रोजर फेडरर को हराया था. 

जोकोविच ने पिछली बार 2016 में साल के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन का खिताब अपने नाम किया था. दो साल बाद उन्होंने एक बार फिर इस खिताब पर अपना कब्जा जमाया है. नडाल ने 2009 में यह खिताब अपने नाम किया था. जोकोविच से मिली हार और दूसरी बार आस्ट्रेलियन ओपन खिताब जीतने से चूके नडाल ने मैच के बाद अपने बयान में कहा, "मैं केवल एक बात कहना चाहता हूं कि मैं अपने संघर्ष को जारी रखूंगा. बेहतर खिलाड़ी बनने की कोशिश करूंगा. मेरा मानना है कि इन दो सप्ताहों में मैंने शानदार टेनिस खेला है. मैं अपनी टीम का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं."

कोहनी की सर्जरी से उबरने के संघर्ष को याद करते हुए जोकोविच ने कहा, "करीब 12 माह पहले मेरी सर्जरी हुई थी. ऐसे में आज आपके सामने इस खिताब के साथ खड़े होना मेरे लिए शानदार अनुभव है. मेरे समर्थन के लिए मैं अपनी टीम का शुक्रगुजार हूं, जो मेरे बुरे दिनों में मेरे साथ खड़ी रही."