close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ENG vs IRE: एंडरसन के पास नंबर वन बॉलर बनने का मौका, पैट कमिंस से जा सकते हैं आगे

एशेज से पहले इंग्लैंड- आयरलैंड टेस्ट मैंच में जेम्स एंडरसन के पास अपनी टेस्ट रैंकिंग सुधार कर टॉप पर आने का बेहतरीन मौका है. 

ENG vs IRE: एंडरसन के पास नंबर वन बॉलर बनने का मौका, पैट कमिंस से जा सकते हैं आगे
जेम्स एंडरसन ने लॉर्ड्स में 100 से ज्यादा विकेट लिए हैं. (फोटो :PTI)

नई दिल्ली: एशेज सीरीज से ठीक पहले बुधवार को ऑयरलैंड का इंग्लैंड दौरा (England vs Ireland) शुरू हो रहा है. इस दौरे में आयरलैंड और इंग्लैंड के बीच एकमात्र टेस्ट मैच लॉर्ड्स में खेला जाना है. इस दौरे के लिए वैसे इंग्लैंड के पेसर जेम्स एंडरसन (James Anderson) का शामिल होना पहले से तय नहीं था क्योंकि वे चोट से उबर रहे थे. लेकिन बाद में उन्हें टीम में शामिल कर लिया गया. इस टेस्ट के जरिए एंडरसन के पास आईसीसी की टेस्ट रैंकिंग में टॉप पर आने का मौका होगा. 

अभी दूसरे स्थान पर हैं एंडरसन
एंडरसन से पिछले साल नवंबर में कगीसो रबाडा ने टेस्ट रैंकिंग में पहला स्थान छीना था. इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के पैट कमिंस शीर्ष पर आ गए थे. फिलहाल एंडरसन इस रैंकिंग में दूसरे स्थान पर हैं और उनके और कमिंस के बीच 16 अंकों का अंतर हैं. यह तय माना जा रहा है कि अगले महीने से शुरू हो रही एशेज सीरीज में दोंनों के बीच रैंकिग में टॉप जाने और बने रहने दोनों की जद्दोजहद भी होगी. एंडरसन चाहते हैं कि एशेज के पहले ही वे नंबर एक के स्थान पर आ जाएं. लॉर्ड्स उनका फेवरेट मैदान हैं और इस मैदान पर उनके नाम 100 से ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड है, इसलिए उनके पास पूरा मौका है कि वे नंबर एक स्थान हासिल कर लें.

यह भी पढ़ें: INDvsWI: भारत-विंडीज सीरीज 3 अगस्त से; देर रात खेले जाएंगे मैच, जानें पूरा शेड्यूल

क्या है इंग्लैंड के बाकी खिलाड़ियों का हाल?
एंडरसन के अलावा इंग्लैंड के अन्य तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड भी अपनी रैंकिंग में सुधार करना चाह रहे हैं. वे इस समय आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में 19वें स्थान पर हैं जो उन्होंने 2009 से बकरार रखा है. मोईन अली फिलहाल 621 अंक के साथ 25वें स्थान पर हैं जो कि ब्रॉड से 12 अंक ही आगे हैं. अली की 2017 के बाद से यह बेस्ट रैंकिंग है. वहीं बल्लेबाजों की बात की जाए तो दोनों ही टीमों (आयरलैंड और इंग्लैंड) में से जो रूट ऐसे खिलाड़ी हैं जिनकी रैंकिंग सबसे ज्यादा है. वे टेस्ट रैकिंग में छठे बल्लेबाज हैं. उनके बाद जॉनी बेयरस्टो 26वें स्थान पर और जोस बटलर 27वें स्थान पर हैं. 

आयरलैंड के खिलाड़ियों के  पास भी यह है मौका
वहीं आईसीसी द्वारा पूर्ण सदस्य का दर्जा दिए जाने के बाद से यह आयरलैंड का तीसरा टेस्ट मैच है. उसने मई 2018 में पाकिस्तान के साथ पहला टेस्ट खेला था और इसके बाद देहरादून में अफगानिस्तान के साथ मार्च 2019 में दूसरा टेस्ट खेला था. दोनों मैचों में उसे हार मिली थी. पहले टेस्ट में केविन ओ ब्रायन ने पाकिस्तान के खिलाफ 40 और 118 रन की पारियां खेली थी. वहीं अफगानिस्तान के खिलाफ हाफ सेंचुरी भी लगाई थी. वे अभी 68 स्थान पर हैं. गैरी विल्सन इस सूची में 140वें स्थान पर काबिज हैं. गेंदबाजी में स्टुअर्ट थॉमसन आईसीसी की 64वीं रैंकिंग पर हैं.  उसके दो पायदान नीचे टिम मुर्ताग हैं. 

क्या फर्क पड़ेगा इंग्लैंड की रैंकिंग पर
टेस्ट रैंकिंग में इंग्लैंड चौथे स्थान पर है. इस मैच में जीत से इंग्लैंड के 105 अंक हो जाएंगे और उसके स्थान पर कोई अंतर नहीं आएगा, लेकिन इस मैच के ड्रॉ होने पर टीम  के अंक 104 और हारने पर अंक 102  हो जाएंगे. वहीं जीत आयरलैंड को 30 अंको का फायदा पहुंचाएगी जबकि ड्रा से उसे केवल 13 अंक मिलेगा, लेकिन उसे पूरी तरह से रैंकिंग में शामिल होने के लिए 5 मैच और खेलने होंगे. 

आयरलैंड के खिलाफ टेस्ट मैच के लिए इंग्लैंड की टीम : जो रूट (कप्तान), मोईन अली, जेम्स एंडरसन, जॉनी बेयरस्टो, स्टुअर्ट ब्रॉड, रोरी बर्न्‍स, सैम करैन, जो डेनली, लुईस ग्रेगोरी, जैक लीच, जेसन रॉय, ऑली स्टोन, क्रिस वोक्स.
(इनपुट एएनआई/ आईएएनएस)