close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IND vs WI: होल्डर अपने टॉप आर्डर से हुए निराश, फिर भी पहला टेस्ट जीतने की उम्मीद

एंटिगा टेस्ट में वेस्टइंडीज टीम के पिछड़ने के लिए जेसन होल्डर ने टीम के टॉप ऑर्डर को जिम्मेदार बताया.

IND vs WI: होल्डर अपने टॉप आर्डर से हुए निराश, फिर भी पहला टेस्ट जीतने की उम्मीद
होल्डर ने पहली पारी में 39 रनों का अहम कप्तानी पारी खेली. (फोटो: IANS)

एंटिगा: भारत और वेस्टइंडीज (India vs West Indies) के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के पहले मैच में तीसरे दिन टीम इंडिया की पकड़ मजबूत हो गई है. पहली पारी में 75 रन की बढ़त हासिल करने के बाद टीम इंडिया ने पहली पारी में केवल तीन विकेट खोकर 185 रन बना लिए हैं और टीम के कप्तान विराट कोहली और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे फिफ्टी जमाकर क्रीज पर जमे हुए है. इससे पहले वेस्टइंडीज की पारी 222 रन पर सिमट गई. वेस्टइंडीज की पारी बिखरने पर
टीम के कप्तान जेसन होल्डर ने अपनी टीम के टॉप ऑर्डर के प्रदर्शन पर निराशा जताई.

लगातार नाकाम हो रहा है टॉप ऑर्डर
होल्डर ने कहा कि उनकी टीम का टॉप ऑर्डर बेहतर बल्लेबाजी करने में नाकाम रहा. होल्डर ने कहा, “बहुत निराशाजनक है, अब ये हमारे बल्लेबाजों के लिए आम बात होती जा रही है. हमारा टॉप ऑर्डर ऊपर नहीं उठ पा रहा है, वहीं मध्य और निम्न क्रम ने शानदार काम किया है. हम केवल आठ गेंदें पीछे हैं क्योंकि हमने पहली पारी में अच्छी बल्लेबाजी नहीं की. लड़के जूझ रहे हैं, उनकी कोशिश बढ़िया है. हम गेंदबाजी के प्रयासों के चलते मैच में बने रहे. इस सतह पर गेंदबाजी आसान नहीं है. हम भारत को रोकने की उम्मीद कर रहे है और फिर लक्ष्य का पीछा करेंगे.”

यह भी पढ़ें:  IND vs WI, 1st Test Day 3: टीम इंडिया की पकड़ मजबूत, विराट-रहाणे ने लगाई फिफ्टी

होल्डर ने अपने गेंदबाजों पर विश्वास जताया और पेसर्स को श्रेय दिया. होल्डर ने केमार रोच की खास तौर पर तारीफ की और कहा कि उन्होंने मैच में शानदार बॉलिंग की. उन्होंने कहा, “गेंदबाज बढ़िया काम कर रहे हैं. भारत दो या ढाई रन प्रति ओवर की औसत से रन बना रहा है. हमें पहली पारी में शुरुआती विकेट मिले लेकिन उन्होंने कुछ साझेदारियां कर ली. हमें केवल बचे मैच में स्मार्ट क्रिकेट खेलना है.”

होल्डर ने कहा, “केमार बेहतरीन रहे. उन्होंने बढ़िया काम किया. केमार आप को अनुमान लगाते रहने के लिए मजबूर करते हैं. ऐसा कभी नहीं हुआ उनके बारे में पहले अनुमान लगाया जा सके. यह हमारी टीम के लिए उनकी सबसे बड़ी खूबी है. वे गेंद को कुछ करवाने में कामयाब हो रहे हैं.  हां ईशांत ने पहली पारी में पांच विकेट लिए लेकिन केमार इस मैच में बेहतर गेंदबाज रहे.

इस मैच में होल्डर ने 39 रन की पारी खेली जिससे वेस्टइंडीज की टीम 200 का आंकड़ा पार सकी. इससे पहली पारी का अंतर केवल 75 रन ही रह गया था, लेकिन दूसरी पारी में विराट और रहाणे ने शतकीय साझेदारी कर टीम इंडिया को मजबूत स्थिति में ला दिया.