INDvsNZ: शर्मनाक हार का 'दाग' छुपाने के लिए रोहित शर्मा ने दिया ये EXCUSE

रोहित ने अपने 200वें एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में मिली हार के बाद कहा, ‘लंबे समय में बल्ले से हमारा सबसे बदतर प्रदर्शन. ऐसी चीज जिसकी हमने उम्मीद नहीं की थी. आपको न्यूजीलैंड के गेंदबाजों को श्रेय देना होगा. यह उनका शानदार प्रदर्शन है.’

INDvsNZ: शर्मनाक हार का 'दाग' छुपाने के लिए रोहित शर्मा ने दिया ये EXCUSE
मैच कप्तान रोहित शर्मा खुद महज 7 रन बना पाए. तस्वीर साभार: IANS

हैमिल्टन: कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने यहां न्यूजीलैंड के खिलाफ चौथे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में आठ विकेट की हार के दौरान भारत के अपने सातवें सबसे कम स्कोर पर सिमटने को ‘लंबे समय में सबसे बदतर’ बल्लेबाजी प्रदर्शन करार दिया. करिश्माई कप्तान विराट कोहली की गैरमौजूदगी में भारत का मजबूत बल्लेबाजी क्रम ट्रेंट बोल्ट (21 रन पर पांच विकेट) की तूफानी गेंदबाजी के सामने 30.5 ओवर में 92 रन पर सिमट गया. कोहली को सीरीज के पहले तीन मैचों के बाद आराम दिया गया है.

रोहित ने अपने 200वें एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में मिली हार के बाद कहा, ‘लंबे समय में बल्ले से हमारा सबसे बदतर प्रदर्शन. ऐसी चीज जिसकी हमने उम्मीद नहीं की थी. आपको न्यूजीलैंड के गेंदबाजों को श्रेय देना होगा. यह उनका शानदार प्रदर्शन है.’

यह इस मैदान पर किसी टीम का सबसे कम स्कोर है. इससे पहले भारत ही इस मैदान पर 122 रन पर सिमट गया था. रोहित ने हालात का फायदा उठाने के लिए न्यूजीलैंड के गेंदबाजों को श्रेय दिया और कहा कि भारतीय बल्लेबाज सेडन पार्क के अच्छे विकेट पर जज्बे के साथ बल्लेबाजी करने में नाकाम रहे. भारतीय कप्तान ने कहा, ‘हमारे लिए यह सीखने के लिए है. कभी कभी आपको दबाव झेलने की जरूरत होती है. इसके लिए हमें स्वयं को ही दोषी ठहराना होगा.’ रोहित ने कहा कि गुरुवार को भारत के लचर प्रदर्शन का कारण खराब शॉट चयन है. 

उन्होंने कहा, ‘एक बार क्रीज पर टिकने के बाद चीजें आसान लगने लगती हैं. हमने कुछ खराब शाट भी खेले. गेंद जब स्विंग कर रही होती है तो यह हमेशा चुनौतीपूर्ण होता है.’ इस सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘पिछली कई सीरीज से हम सीमित ओवरों के प्रारूप में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. सभी को पता है कि क्या गलत हुआ. ऐसा समय आता है जब गेंद स्विंग करती है और हमें इससे निपटना होगा.’ न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने भारत को 100 रन से कम के स्कोर पर रोकने के लिए अपने गेंदबाजों की तारीफ की.

उन्होंने कहा, ‘हमने उम्मीद नहीं की थी कि विकेट इस तरह का बर्ताव करेगा. उन्हें 90 रन के आसपास रोकना अच्छा है. गेंद तेजी से आ रही थी और स्पिन भी हो रही थी. ऐसा दिन जब चीजें सही रही.’ विलियमसन ने कहा, ‘गेंदबाजों को श्रेय जाता है. हम हमेशा से जल्दी विकेट चाहते थे, ऐसा कर पाना सही दिशा में बढ़ाया गया कदम है.’ विलियमसन ने कहा कि भारत जैसी मजबूत टीम के खिलाफ खेलने से किसी भी टीम में सुधार ही होगा.

'मैन ऑफ द मैच' बने ट्रेंट बोल्ट ने कहा कि भारत जैसी टीम के खिलाफ हालात का फायदा उठाना संतोषजनक है. उन्होंने कहा, ‘गेंद को मूव होते हुए देखकर अच्छा लगा, इसका फायदा उठाया. लक्ष्य का पीछा करना भी अच्छा रहा. गेंद स्विंग कर रही थी, काफी संतोषजनक. मजा आया, उन्हें कम स्कोर पर आउट करना अच्छा रहा.’