• 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    89कांग्रेस+

  • अन्य

    99अन्य

INDvsAUS: टीम इंडिया के संकट मोचक बने रोहित, छक्के से ऐसे खोला अपना खाता

सिडनी वनडे में शुरुआती तीन झटकों के बाद रोहित शर्मा ने अपना खाता छक्के के साथ खोला.

INDvsAUS: टीम इंडिया के संकट मोचक बने रोहित, छक्के से ऐसे खोला अपना खाता

सिडनी:  भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वनडे सीरीज के पहले वनडे में टीम इंडिया शुरुआती ओवरों में ही संकट में आ गई. ऑस्ट्रेलिया के दिए 289 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम इंडिया ने पहले चार ओवरों में केवल चार रन पर तीन अहम विकेट गंवा दिए. इसमें शिखर धवन, कप्तान विराट कोहली और  अंबाती रायडू के विकेट शामिल रहे. इसके बाद क्रीज पर उपकप्तान रोहित शर्मा का साथ देने एमएस धोनी आए. इसके बाद रोहित शर्मा ने शानदार छक्के लगाकर अपना खाता खोला. 

टीम इंडिया के चार ओवर में तीन विकेट गिरे थे जिसमें से दो एलबीडब्ल्यू थे जबकि कप्तान विराट कोहली फ्लिक करके स्टाइनेस को शॉर्ट स्क्वायर लेग पर कैच देकर  चलते बने. यहां तक रोहित शर्मा 17 गेंदों में अपना खाता नहीं खोल पाए थे. लेकिन पारी के पांचवे ओवर में जेसन बेहरेनडॉर्फ ने जब नोबॉल की तो रोहित शर्मा को खाता खोलने का मौका मिला. रोहित ने इस फ्री हिट का पूरा फायदा उठाया छक्का लगाकर अपना खाता खोला. 

ऐसे मिला रोहित को छक्का
दरअसल रोहित को यह छक्का भी आसानी से नहीं मिला. जब रोहित को बेहरेनडॉर्फ की गेंद पर फ्रीहिट मिली तो रोहित ने अपने अंदाज में डीप मिड विकेट की ओर ऊंचा शॉट खेल दिया. इस जगह पर शॉन मार्श फील्डिंग कर रहे थे. उन्होंने कैच पकड़ने की कोशिश भी की लेकिन जब उन्हें लगा कि वे गेंद पकड़ कर बाउंड्री के बाहर जा सकते हैं, उन्होंने गेंद अंदर फेंक दी. फ्री हिट होने की वजह से विकेट तो मिलने वाला नहीं था इसलिए मार्श ने छक्का बचाने के लिए गेंद फेंक दी और बाउंड्री पर गिर गए. 

अंपायर ने रीप्ले देखा तो पाया कि जब मार्श कैच पकड़ रहे थे तब ही उनका पैर बाउंड्री को छू गया. इसके बाद अंपयार ने छक्के का इशारा किया और इस तरह रोहित का खाता छक्के से खुल गया. 

ऑस्ट्रेलिया ने दिया 289 रनों का लक्ष्य
इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने भारत के सामने 289 रनों की चुनौती रखी. ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया और निर्धारित 50 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 288 रन बनाए.उसे इस स्कोर तक पहुंचाने में पीटर हैंड्सकॉम्ब (73), उस्मान ख्वाजा (59), शॉन मार्श (54) का अहम योगदान रहा. टीम के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले हैंड्सकॉम्ब ने अपनी पारी में 61 गेंदें खेलीं जिनमें से छह पर चौके और दो पर छक्के मारे.

ख्वाजा, मार्श और स्टोइनिस का भी रहा योगदान
ख्वाजा ने 81 गेंदों की अपनी पारी में छह चौके लगाए. मार्श ने 70 गेंदों का सामना करते हुए चार चौके मारे. मार्कस स्टोइनिस 43 गेंदों पर दो चौके और दो छक्कों की मदद से 47 रन बनाकर नाबाद रहे. ग्लैन मैक्सवेल 11 रन बनाकर नाबाद लौटे.भारत के लिए कुलदीप यादव और भुवनेश्वर कुमार ने दो-दो विकेट लिए. रवींद्र जडेजा ने एक विकेट अपने नाम किया.