INDvsNZ: वेलिंगटन में चमके विजय शंकर, लेकिन अपनी हाफ सेंचुरी से यूं चूक गए

विजय शंकर ने टीम इंडिया की लड़खड़ाती पारी को संभालते हुए शानदार बल्लेबाजी की लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से रन आउट हो गए.

INDvsNZ: वेलिंगटन में चमके विजय शंकर, लेकिन अपनी हाफ सेंचुरी से यूं चूक गए
विजय शंकर अपनी पहली हाफ सेंचुरी लगाने से चूक गए थे. (फोटो: Twitter)

वेलिंगटन:  न्यूजीलैंड दौरे के आखिरी वनडे मैच में एक बार फिर टीम इंडिया के सितारे फ्लॉप हो गए. केवल 18 रन के मामूली स्कोर पर ही 4 टॉप बल्लेबाजों के पवेलियन वापस आ जाने के बाद टीम की पारी का जिम्मा विजय शंकर और अंबाती रायडू के कंधों पर आ गया. विजय ने अपना विकेट बचाते हुए टीम का स्कोर भी बढ़ाया जिससे अंबाती रायडू को अपनी लय ढूंढने में समय मिल गया. इसके बाद विजय 45 रन बनाकर दुर्भाग्यरपूर्ण तरीके रन आउट हो गए और अपने वनडे करियर की पहली हाफ सेंचुरी लगाने से चूके गए. 

विजय ने पहले संकट से उबारा टीम इंडिया को
धोनी का विकेट गिरने के समय जब अंबाती रायडू संघर्ष कर रहे थे. लेकिन विजय ने धोनी के आउट होने के बाद दूसरी गेंद पर ट्रेंट बोल्ट को चौका लगा दिया. इसके बाद विजय ने 19वें ओवर में टीम इंडिया के 50 पूरे करवाए. उस समय वे 36 गेंदों पर 20 रन बना चुके थे. जबकि रायडू 38 गेंदें खेल कर केवल 12 रन बना सके थे. इसके बाद विजय ने रायडू के साथ मिलकर टीम का स्कोर 29वें ओवर में 100 रन किया. इसमें विजय के 41 रन थे. 

93 रनों की कीमती साझेदारी
इसके बाद विजय शंकर और अंबाती रायडू की साझेदारी तब टूट गई जब विजय शंकर केवल 45 रन बनाकर रनआउट हो गए. विजय ने 32वें ओवर में कॉलिन मुनरो की गेंद पर शॉर्ट मिडविकेट की तरफ शॉट लगया. विजय ने दो कदम रन लेने के लिए बढ़ाए जबकि अंबाती रायडू गेंद की तरह ही देखते हुए दौड़ गए और विजय को नॉन स्ट्राइकर एंड पर दौड़ना पड़ा. जेम्स नीशाम का थ्रो विकेट पर नहीं लगा लेकिन मुनरो ने गेंद वापस विकेट पर फेंककर गिल्लियां गिरा दी और विजय आउट हो गए. विजय ने अपनी 64 गेंदों की पारी में 4 चौके लगाए. विजय ने रायडू के साथ 98 रनों की अहम साझेदारी की

भारतीय दिग्गज बल्लेबाज हैमिल्टन के बाद एक बार फिर वेलिंगटन में भी फ्लॉप साबित हुए. टीम इंडिया को इस बार अच्छी शुरुआत दिलाने की कोशिश करने में एक इस बार भी टीम का शीर्ष क्रम नाकाम रहा और केवल 18 रन पर चार खिलाड़ी आउट हो गए जिनमें कप्तान रोहित शर्मा, शिखर धवन, शुभमन गिल और एमएस धोनी शामिल थे. 

केवल 92 रन पर सिमट गई थी टीम इंडिया हैमिल्टन में
 हैमिल्टन में टीम इंडिया न्यूजीलैंड के गेंदबाजों के आगे नतमस्तक होकर केवल 92 रन पर सिमट गई थी जहां पहले चार विकेट 33 रन पर गिर गए थे. वहीं वेलिंगटन में पहले चार विकेट केवल 18 रन पर गिर गए. टीम की शुरुआत में कप्तान रोहित पांचवे ओवर में मैट हेनरी की गेंद पर बोल्ड हो गए. इसके अगले ओवर में शिखर धवन ट्रेंट बोल्ट के बाउंसर को थर्ड मैन की दिशा में ऊंचा शॉट खेल बैठे और मैट हेनरी को कैच देकर केवल 6 रन बनाकर आउट हो गए. 

7वें ओवर में शुभमन गिल भी 11 गेंदों पर 7 रन बकर  मैट हेनरी की गेंद पर मिचेल सैंटनर को कवर पर कैच दे बैठे.  यहां एमएस धोनी भी न्यूजीलैंड की स्विंग गेंदबाजी को समझने में नाकाम रहे और जल्दी ही ट्रेंट बोल्ड की गेंद पर बोल्ड हो गए और इस तरह 10 ओवर से पहले ही टीम इंडिया के केवल 18 रन पर चार विकेट गिर गए जहां से विजय शंकर ने रायडू के साथ मिलकर टीम को मजबूती दी.