Irani Cup: उमेश यादव के बिना उतरेगा विदर्भ, अजिंक्य रहाणे की निगाह वर्ल्ड कप पर

रणजी चैंपियन विदर्भ मंगलवार (12 फरवरी) से ईरानी कप (Irani Cup) में शेष भारत (Rest of India) की टीम से दो-दो हाथ करेगा. 

Irani Cup: उमेश यादव के बिना उतरेगा विदर्भ, अजिंक्य रहाणे की निगाह वर्ल्ड कप पर
विदर्भ के कप्तान फैज फजल और शेष भारत के कप्तान अजिंक्य रहाणे सोमवार को प्रैक्टिस सेशन के दौरान. (फोटो: PTI)

नागपुर: रणजी चैंपियन विदर्भ मंगलवार (12 फरवरी) से ईरानी कप (Irani Cup) में शेष भारत की टीम से दो-दो हाथ करेगा. विदर्भ ने लगातार दूसरे साल रणजी ट्रॉफी का खिताब जीता है. वह ईरानी कप जीतकर 2017-18 सत्र को यादगार बनाने की कोशिश करेगा. दूसरी ओर, शेष भारत के कप्तान अंजिक्य रहाणे इस मैच में बड़ा स्कोर बनाकर विश्व कप (World Cup 2019)  की टीम में जगह बनाने के लिए अपना दावा पेश करने की कोशिश करेंगे. यह मैच नागपुर में सुबह साढ़े नौ बजे से खेला जाएगा.

रणजी चैंपियन विदर्भ (Vidarbha) को इस मैच में अपने मुख्य तेज गेंदबाज उमेश यादव के बिना उतरना होगा. शेष भारत (Rest of India) की टीम में अजिंक्य रहाणे के अलावा, मयंक अग्रवाल, श्रेयस अय्यर और हनुमा विहारी जैसे खिलाड़ी है. ऐसे में विदर्भ के लिए उमेश यादव के बिना शेष भारत को हराना आसान नहीं होगा. 

यह भी पढ़ें: एमएसके प्रसाद ने माना- वर्ल्ड कप की रेस ओपन; पंत-विजय शंकर-रहाणे बना सकते हैं टीम में जगह

अजिंक्य रहाणे ने इंग्लैंड लायंस के खिलाफ लिस्ट ए के तीन मैच खेले थे, जिसमें उन्होंने दो अर्धशतक लगाए. उनकी निगाह विश्व कप टीम में रिजर्व सलामी बल्लेबाज की जगह पर लगी है. वे पांच दिवसीय मैच में अच्छी पारी खेलने पर चयनकर्ताओं का ध्यान खींच सकते हैं. मयंक अग्रवाल, श्रेयस अय्यर और हनुमा विहारी तीनों ही विश्व कप की टीम में जगह बनाने के दावेदार नहीं हैं. 

विदर्भ ने इस सत्र में अच्छा प्रदर्शन किया है और कोच चंद्रकांत पंडित चाहेंगे कि उनके खिलाड़ी अपनी अच्छी फॉर्म जारी रखें. टीम को हालांकि उमेश की कमी खलेगी, जिन्हें चोटिल होने के कारण आराम करने की सलाह दी गई है. उनके स्थान पर यश ठाकुर को लिया गया है. 

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: धोनी-शमी ने तो दूर कर दी चिंता, पर विश्व कप तक नहीं सुलझेगी नंबर-4 की समस्या

विदर्भ की टीम में हालांकि 41 वर्षीय वसीम जाफर, बाएं हाथ के स्पिनर आदित्य सरवटे, विकेटकीपर बल्लेबाज अक्षय वाडकर और तेज गेंदबाज रजनीश गुरबानी जैसे खिलाड़ी हैं जो अच्छी फॉर्म में हैं. सरवटे ने रणजी फाइनल में चेतेश्वर पुजारा जैसे बल्लेबाज को अपने जाल में फंसाकर विदर्भ को चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाई थी. उनकी निगाह अब रहाणे को सस्ते में समेटने पर टिकी रहेगी.  

(इनपुट: भाषा)