close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एमएस धोनी ICC के ट्विटर कवर पर भी छाए, पिछले हफ्ते ही साइट ने दिया था ऐसे सम्मान

आईसीसी ने धोनी का सम्मान करते हुए अपने ट्विटर अकाउंट की कवर इमेज पर धोनी की तस्वीर लगाई है. 

एमएस धोनी ICC के ट्विटर कवर पर भी छाए, पिछले हफ्ते ही साइट ने दिया था ऐसे सम्मान
एमएस धोनी ने लंबे समय के बाद टीम इंडिया के लिए फिनिशर की भूमिका निभाई. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी के ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में शानदार प्रदर्शन की चारों ओर तारीफ हो रही है. एक तरफ धोनी के प्रशंसक अपने चहेते खिलाड़ी के फॉर्म में वापस आने पर खुश हैं, तो वहीं दूसरी तरफ दुनिया भर के दिग्गजों ने धोनी की पारियों की एक सुर में तारीफ की है. धोनी की तारीफ करने में अब आईसीसी भी पीछे नहीं है. आईसीसी दुनिया भर में क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन करने वाले क्रिकेटरों की तस्वीरें, रिकॉर्ड सहित ट्वीट करती ही रहती है. अब आईसीसी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल की कवर इमेज में धोनी की तस्वीर को लगाकर धोनी का सम्मान किया है. 

इस सीरीज के पहले तक काफी लंबे से धोनी अपने उस लय और फॉर्म को हासिल करने के लिए जूझते दिखाई दे रहे थे. वैसे तो धोनी का फॉर्म दो साल पहले ही गिरना शुरू हो गया था, लेकिन पिछले साल आईपीएल में धोनी ने सभी को चौंकाते हुए बेहतरीन प्रदर्शन किया और अपनी टीम चेन्नई सुपर किंग्स को साल 2018 का आईपीएल खिताब भी जिताया.

icc twitter cover image

आईपीएल के बाद लगा की अब धोनी इंटरनेशनल क्रिकेट में भी वापसी कर लेंगे.  धोनी ने साल 2018 में टीम इंडिया के लिए 20 में से 13 पारियों खेलीं जिसनें उन्होंने एक शतक और छह हाफ सेंचुरी लगाते हुए 25.00 के औसत और 71.42 के स्ट्राइक रेट से केवल 275 रन ही बनाए जिसमें 42 रन उनका सर्वोच्च स्कोर रहा. आईपीएल के बाद पहले टीम इंडिया के आयरलैंड इंग्लैंड दौरे में, उसके बाद एशिया कप, और वेस्टइंडीज के भारत दौरे तक धोनी के बल्ले में वह धार नहीं दिखी जिसके लोग कायल हैं. इस बीच उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए टीम इंडिया में भी शामिल नहीं किया गया. इस दौरान यह चर्चा भी चलती ही रही की धोनी को रिटायर हो जाना चाहिए, या उन्हें वर्ल्डकप में ले जाना चाहिए या नहीं. 

वापसी पर छा गए धोनी
धोनी की अपनी खोई हुई लय मिली भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मौचों की वनडे सीरीज में. इन तीनों मैचों में धोनी ने हाफ सेंचुरी लगाते हुए अंतिम दो मैचों में फिनिशर की भूमिका भी निभाई. इन मैचों में धोनी ने टीम को जीत दिलाते हुए खुद का विकेट भी नहीं गंवाया. आखिरी वनडे में तो धोनी को दो जीवनदान भी मिले और एक बार आउट होने के बाद भी उनके खिलाफ ऑस्ट्रेलिया ने अपील नहीं की थी. धोनी ने इस मैच में 114 गेंदों पर छह चौकों की मदद से केवल 87 रनों की पारी खेली थी.  

आईसीसी ने पिछले हफ्ते ऐसे किया था धोनी को सलाम
15 जनवरी को हुए दूसरे वनडे मैच में जब धोनी ने सीरीज में पहली बार फिनिशर की भूमिका निभाई तब भी आईसीसी ने उन्हें अनोखा सलाम किया. आईसीसी धोनी की पुरानी तस्वीर के साथ ताजा तस्वीर ट्वीट कर कहा कि धोनी अब भी छक्का लगा कर चेज फिनिश कर रहे हैं. 15 जनवरी के वनजे में धोनी ने छक्के के साथ मैच में 5 गेंद शेष रहते ही ऑस्ट्रेलिया का स्कोर बराबर किया था.

ICC on MS Dhoni

धोनी को इस सीरीज में मैन ऑफ द सीरीज का खिताब मिला. धोनी 37 साल 195 दिन की उम्र में मैच ऑफ द सीरीज का खिताब जीतने वाले सबसे ज्यादा उम्र के भारतीय खिलाड़ी बने. धोनी से पहले ये रिकॉर्ड सुनील गावस्कर के नाम था. वहीं यह धोनी के वनडे करियर का सातवां वनडे मैन ऑफ द सीरीज खिताब था.