पाकिस्तान में 10 साल बाद शुरू हुआ था टेस्ट मैच, मौसम ने बिगाड़ कर रख दिया खेल

PAK vs SL: रावलपिंडी टेस्ट में चौथे दिन खराब मौसम के कारण एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी. अब इस टेस्ट में नतीजा नहीं निकलना तय है. 

पाकिस्तान में 10 साल बाद शुरू हुआ था टेस्ट मैच, मौसम ने बिगाड़ कर रख दिया खेल
रावलपिंडी टेस्ट में चौथे दिन एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी. (फोटो: Twitter/@TheRealPCB)

नई दिल्ली: करीब 10 साल बाद पाकिस्तान (Pakistan Cricket) में टेस्ट मैच शुरु हुआ था लेकिन पाकिस्तान इस मैच का जश्न नहीं मना सकेगा. पाकिस्तान और श्रीलंका (Pakistan vs Sri Lanka) के बीच रावलपिंडी में शुरू हुए इस मैच में पहले ही दिन से मौसम की मार पड़ने लगी इसके बाद हर दिन हालात बिगड़ने लगी. हर दिन मैच में तेजी से ओवर कम होते रही और चौथे दिन तो एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी. 

ओवर कम होते गए हर दिन
इस मैच में पहले दिन जहां 68.1 ओवर का खेल हुआ था तो वहीं दूसरे दिन भी बारिश और खराब रौशनी के कारण सिर्फ 18.2 ओवरों का खेल हो सका था. इसके बाद तीसरे दिन केवल 5.2 ओवर ही फेंके जा सके और फिर चौथे दिन तो खेल शुरू हुए बिना लंच ले लिया. इसके बाद दिन का खेल भी खत्म कर दिया गया. 

यह भी पढ़ें: IND vs WI चेन्नई में विजयी रथ पर सवार विराट सेना की होगी पोलार्ड की टीम से जंग

तीसरे दिन फेंके जा सके सिर्फ 5 ओवर
इससे पहले तीसरा दिन भी बारिश से प्रभावित रहा और सिर्फ 5.2 ओवरों का ही खेल हो सका. उससे पहले दूसरे दिन भी बारिश और खराब रौशनी के कारण सिर्फ 18.2 ओवरों का खेल हो सका था. तीसरे दिन स्थिति और खराब हो गई. सटम्प्स की घोषणा तक श्रीलंका का स्कोर छह विकेट के नुकसान पर 282 रन है.

क्या हुआ था पहले दिन
पहले दिन बारिश के कारण पहले ही मैच देर से शुरू हुआ था. जैसे तैसे बारिश रुकने के बाद मैच शुरू हुआ और फिर खराब रोशनी ने दिन का खेल पूरा नहीं होने दिया. श्रीलंका ने दिन की शुरुआत छह विकेट के नुकसान पर 263 रनों पर की थी. वह 5.2 ओवरों में सिर्फ 19 रन ही बना पाई थी. धनंजय डी सिल्वा ने अपने दूसरे दिन के स्कोर में 14 रनों का इजाफा किया और दिन का खेल खत्म होने की घोषणा तक 87 रन बनाए थे. कुशल परेरा उनके साथ छह रन बनाकर नाबाद थे..
(इनपुट आईएएनएस से भी)

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.