close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: वर्ल्ड कप से पहले सामने आई पाकिस्तान की 'बेईमानी', जमकर उड़ा हसन अली का मजाक

28 अप्रैल को पाकिस्तान ने कैंट के विरुद्ध अपना पहला मैच खेला और 100 रन से जीत भी दर्ज की. मगर इस मैच में एक कैच को लेकर बेईमानी की बात सामने आई है.

VIDEO: वर्ल्ड कप से पहले सामने आई पाकिस्तान की 'बेईमानी', जमकर उड़ा हसन अली का मजाक
हसन अली गेंद पकड़ने की बजाए अपनी ट्रेडमार्क स्टाइल में जश्न मनाने लगे. (फाइल)

नई दिल्ली: इंग्लैंड और वेल्स में 30 मई से शुरू होने जा रहे वर्ल्ड कप (World Cup 2019) मुकाबलों से पहले पाकिस्तान की क्रिकेट टीम  विदेशी धरती पर पहुंची चुकी है. जहां पाकिस्तान ने इंग्लैंड की घरेलू टीमों के साथ अभ्यास मैच खेलने शुरू कर दिए हैं. 28 अप्रैल को पाकिस्तान ने कैंट के विरुद्ध अपना पहला मैच खेला और 100 रन से जीत भी दर्ज की. मगर इस मैच में एक कैच को लेकर बेईमानी करने की बात सामने आई है, जिसको लेकर सोशल मीडिया पर पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को खूब खरी-खोटी बातें सुनाई जा रही हैं.   

दरअसल, पाकिस्तान के गेंदबाज हसन अली की गेंद पर कैंट टीम के बल्‍लेबाज एलेक्‍स ब्‍लेक ने शॉट मारना चाहा लेकिन गेंद बल्‍ले पर पूरी तरह से चढ़ नहीं पाई और किनारा लेकर हवा में उछल गई. इस कैच को गेंदबाज अली ने ही लपकना चाहा, लेकिन गेंद अली के हाथों में समाते हुए नीचे जा गिरी यानी कैच छूट गया. मगर इस उन्होंने बिना देर किए काफी आत्मविश्वास के साथ कैच लेने का जश्न मनाना शुरू कर दिया. आप भी देखिए वीडियो...

इसके बाद बल्लेबाज ब्लेक खुद को आउट मानकर पवेलियन की ओर वापस जाने लगे, तभी उनके साझेदार बल्लेबाज ओली रॉबिनसन ने कैच छूटने का दावा कर ब्लेक को रोकने की कोशिश की और अंपायर को भी कैच ड्रॉप होने के बारे में बताना चाहा, मगर इस घरेलू मैच में किसी इंटरनेशनल मुकाबले की तरह रीप्ले का सिस्टम नहीं था और इस वजह से अंपायर ने ब्लेक को आउट करार दे दिया. इस मुकाबले में ब्लेक 89 रन बनाकर वापस पवेलियन लौट गए.

अब इस पूरे मामले की एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसमें साफ देखा जा सकता है कि गेंद हसन अली के कंट्रोल में नहीं आई और उनसे कैच ड्रॉप हुआ था.

आईसीसी के एकदिवसीय मैच के नियम 3.3 के मुताबिक, मैच के दौरान कैच तभी पूरा माना जाता है तब एक फील्डर गेंद और स्वयं पर कंट्रोल नहीं पा लेता है. मसलन अगर गेंद फील्डर के हाथ में आ गई तो उसकी कोई मूवमेंट नहीं होनी चाहिए.

यहां बता दें कि कैंट के खिलाफ इस मैच में पाकिस्तान ने 358 रन का स्कोर खड़ा किया था. जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी कैंट टीम 258 रन पर ही ऑल आउट हो गई.