close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

chamki bukhar

बिहार : बांका में चमकी बुखार का कहर, एक की मौत, दूसरे की स्थिति गंभीर

मृतक को परिजनों ने पहले गांव में ही डॉक्टर से बेटी का इलाज कराया. स्वास्थ्य में सुधार न होता देख परिजनों ने एक प्राइवेट अस्पताल में उपचार कराया. 

Aug 29, 2019, 07:58 AM IST

UP में चमकी बुखार से निपटने संबंधी याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का सरकारों को नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार, बिहार की नीतीश कुमार सरकार और केंद्र सरकार को नोटिस जारी करके जवाब मांगा है.

Jul 15, 2019, 12:56 PM IST

चमकी बुखार पर सुप्रीम कोर्ट की फटकार

मुजफ्फरपुर में चमकी का कहर जारी है 165 से ज्यादा बच्चों के माता पिता बिलखते रहगए. उनकी आंखों के सामने ही कलेजे के टुकड़े काल के गाल में समा गए. बिहार के माता पिता की चीख पुकार अब सुप्रीम कोर्ट के कानों तक पहुंची है.

Jun 24, 2019, 10:21 PM IST

बिहार में बेकाबू 'चमकी' बुखार को लेकर दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केन्द्र और राज्य सरकार को भेजा नोटिस

 मामले की अगली सुनवाई 10 दिनों के बाद होगी.जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस बीआर गवई की अवकाशकालीन पीठ वकील मनोहर प्रताप की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए ये आदेश दिया है.

Jun 24, 2019, 11:08 AM IST

चमकी बुखार : केंद्रीय बाल संरक्षण आयोग की मांग पर बिहार सरकार ने भेजी रिपोर्ट

बिहार में चमकी बुखार का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है और मौत का आंकड़ा भी रुक नहीं रहा है. शनिवार सुबह तक पूरे राज्य में इस बीमारी की वजह से मरने वालों की संख्या 165 हो गई है.

Jun 22, 2019, 08:46 AM IST

News Maker: नीतीश कुमार को सवालों से डर लगता है !

बिहार में चमकी बुखार 153 बच्चों की जान ले चुका है. मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है. कठघरे में नीतीश सरकार है. सबसे बड़ा सवाल सुशासन का दावा करने वाले मुख्यमंत्री से है, जिनके राज में बच्चे बेमौत मरते रहे. लेकिन नीतीश कुमार सुलगते सवालों को अनसुना कर रहे हैं.

Jun 20, 2019, 10:49 PM IST

नीतीश के पास मासूमों की मौतों का जवाब नहीं

1995 में चमकी बुखार का पहला केस सामने आया था. 2002 से 2018 तक 2000 बच्चों की मौत हुई. हर साल मौत के बाद भी नहीं चेती सरकार.

Jun 20, 2019, 04:42 PM IST

बिहार में 'चमकी बुखार' से 'हाहाकार'

मुजफ्फरपुर, वैशाली और आस-पास के जिलों में 80 से ज्यादा बच्चों की मौत हो चुकी है. बच्चों की मौत के पीछे AES यानी Acute Encephalitis Syndrome को वजह बताया जा रहा है.

Jun 15, 2019, 11:00 PM IST