school education

3 मिनट में जानिए मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़ की 30 बड़ी खबरें, फटाफट अंदाज में

राजनाथ सिंह ने दिया चीन को जवाब, संसद सत्र में हुई किन मुद्दों पर बातचीत, कितने दिनों का होगा मध्यप्रदेश में विधानसभा का मॉनसून सत्र, मध्य प्रदेश उपचुनाव में सीएम शिवराज को मिला उमा भारती का साथ और भी बहुत कुछ. जानिए अब तक की 30 बड़ी खबरें मात्र 3 मिनट में...!

Sep 15, 2020, 05:40 PM IST

PM मोदी का राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर संबोधन शुरू, इन विषयों पर करेंगे चर्चा

अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि पिछले कुछ दशकों से शिक्षा नीति में बदलाव बेहत आवश्यक था. नई शिक्षा नीति से नए भारत के उम्मीदों को बल मिलेगा.

Sep 11, 2020, 11:26 AM IST

कोटा के सांगोद ग्रामीण इलाके में चल रहा है मौत का स्कूल !

ये कोटा के सांगोद के ग्रामीण इलाके में स्थित इस जर्जर भवन को आप देखिए... पहली नजर में आपको ये भवन किसी कूड़ा घर से कम नजर नहीं आएगा..जब तक कि कोई आपको ये बता ना दें कि आंगनबाड़ी केंद्र हैं....जो अब प्री स्कूल में परिवर्तित कर दिया गया हैं....जिन बच्चों को सुनहरे भविष्य के लिए मां बाप स्कूल भेजते है दरअसल ऐसे स्कूल इन बच्चों के लिए जानलेवा साबित हो सकता है..

Jan 20, 2020, 07:36 PM IST

अमेठी: अव्यवस्थाओं का शिकार राजकीय इंटर कॉलेज, अभी भी है पढ़ाई शुरु होने का इंतजार

खाली बिल्डिंग सिस्टम की बदहाली और अव्यव्सथाओं को आईना दिखा रही है. अधिकारियों की लापरवाही बच्चियों के शिक्षा के अधिकार का हनन कर रही हैं.

Dec 19, 2019, 07:49 PM IST

बगहा : आदिवासी बहुल इस गांव में श्रमदान और चंदा से हो रहा है स्कूल भवन का निर्माण

कभी नक्सलियों का गढ़ रहे इस गांव में आज भवन निर्माण की धूमधाम से तैयारी चल रही है. समाज की महिलाएं भी शिक्षा के मंदिर के निर्माण में बढ़-चढ़ कर पुरुषों के कदमताल कर रही हैं.

Jul 12, 2019, 08:22 AM IST

आज का इतिहास: आज है थॉमस ऐल्वा एडिसन की जंयती

थॉमस ऐल्वा एडिसन का जन्म 11 फरवरी 1847 को हुआ था. एडिसन को टीचर ने मंदबुद्धि कह कर स्कूल से निकाल दिया था. इसके पश्चात् मां ने इन्हें स्कूली शिक्षा दी. थॉमस एडिसन ने 13 साल की उम्र में समाचार पत्र और टाफियां बेची थी. देखिए, आज का इतिहास..

Feb 11, 2019, 01:28 PM IST

भारत में ज्ञानशील समाज के विकास में बढ़ती ऑनलाइन शिक्षा की भूमिका

दुनियाभर में ब्रिटेन, आस्ट्रेलिया, फ्रांस, कनाडा, दक्षिण अफ्रीका, रूस और चीन समेत तमाम देशों में शिक्षा के बाजार मेंऑनलाइन कॉलेज और पाठ्यक्रम की हिस्सेदारी तेजी से बढ़ रही है.

Jan 16, 2019, 12:41 PM IST

एक ही स्कूल से निकले ये 3 स्टूडेंट, अब मुख्यमंत्री बनकर संभाल रहे हैं इन राज्यों की सत्ता

इस स्कूल को देश ही नहीं बल्कि दुनिया का प्रतिष्ठित स्कूल माना जाता है. यह पहली बार है कि जब यहां से पढ़ने वाले तीन स्टूडेंट एक ही समय में अलग-अलग राज्यों के मुख्यमंत्री पद पर काबिज हैं.

Dec 23, 2018, 06:02 AM IST

मध्य प्रदेश: 1 अक्टूबर तक पूरी होगी 'एक परिसर, एक शाला' की प्रक्रिया

एक परिसर-एक शाला' के क्रियान्वयन के लिए स्कूली शिक्षा विभाग ने जिलास्तरीय समिति के गठन के लिए जिलाधिकारियों को आदेश दिये हैं.

Sep 13, 2018, 12:29 PM IST

डियर जिंदगी : उनके लिए जो पहली, दूसरी नौकरी के बाद मुश्किल वक्त में हैं

आईआईएम से निकले युवा का जैसा मिज़ाज होना चाहिए. उसका वैसा ही है. इसके साथ उसके पिता का आर्मी ऑफ़िसर का बैगग्राउंड उसे विरासत में मिला. उसकी पहली नौकरी वैसी ही है, जैसी हम आईआईएम के कैंपस प्‍लेसमेंट की कहानियां पढ़ते हैं. लाखों का पैकेज और सपनों का शहर मुंबई, लेकिन अनुभूति आनंद की ज़िंदगी पटरी पर नहीं आ रही थी. 

मई 26, 2017, 04:33 PM IST

डियर ज़िंदगी : आपने सच्‍ची तारीफ़ कितने बरस पहले की थी...

हम शिकायतों का पुलिंदा बन गए हैं. सुबह से शाम, देर रात सोने से पहले और जागने के बाद हम शिकायत के मास्‍टर हो जाते हैं. अक्‍सर ही हमें चीज़ों में कमी नज़र आने लगी है. इसका सबसे बड़ा असर यह हुआ है कि हम वर्तमान के सुख से दूर एक किस्‍म की मानसिक बाधा का शिकार हो गए हैं. हर बात में शिकायत, बात-बात में शिकायत. 

मई 25, 2017, 04:34 PM IST

डियर ज़िंदगी : आप अभी तक 'उसी' बात से दुखी हैं...

ट्रैफ़िक जाम हर दिन होने वाली परेशानी का नाम है. देखने में यह जितनी बड़ी है, इसके मुख्‍य कारण उतने ही छोटे हैं. सबसे बड़ा कारण, किसी एक की मूर्खता होती है. 

मई 24, 2017, 04:15 PM IST

डियर जिंदगी : खुश रहिए और 'लक' की थ्‍योरी को इस तरह समझिए

आप अपनी जिंदगी में जितने लोगों से मिले हैं, उनमें से कितने को आप जिंदगी से पूरी तरह संतुष्‍ट पाते हैं! हर हाल में खुश. मेरे पास तो बमुश्किल पांच लोग हैं, जिन्‍हें मैं पूरी तरह से संतुष्‍ट, सुखी कह सकता हूं. ऐसे संतुष्‍टों की प्रजाति अब विलुप्‍त होती जा रही है और इसके साथ ब्‍लड प्रेशर और चिंता हमारी रगों में दौड़ते जा रहे हैं.

मई 23, 2017, 04:10 PM IST

डियर जिंदगी : अपने को थोड़ा सा 'खाली' करें

यह सेल्‍फी समय है. इसमें सबसे खास 'सेल्‍फ' ही हो गया है. इसीलिए समय का यह टुकड़ा सेल्‍फी समय के नाम से जाना जा रहा है. यहां सबसे सुंदर वह फ्रेम है, जिसमें मैं हूं! अच्‍छा होता अगर यह विचार मोबाइल के फीचर तक सिमटा रहता लेकिन सेल्‍फी ऑप्‍शन मोबाइल से होते हुए हमारे घर, परिवार और दोस्‍तों तक पहुंच गया है. हम से होते हुए हमारी पूरी सोच 'मैं' पर आ गई है. 

मई 22, 2017, 02:20 PM IST

डियर ज़िंदगी : बच्‍चों के लिए कैसी दुनिया बना दी हमने... उनकी धड़कनों में अपने सपने भर दिए...

तुम क्‍या बनना चाहते हो ! भारत में बच्‍चों से सबसे अधिक पूछा जाने वाला सवाल यही है. जिस बच्‍चे को अभी दुनिया के बारे में तो दूर, स्‍कूल और कॉलेज की किताबों के बारे में ठीक से नहीं पता.. उसके दिल और दिमाग में यह सवाल ठूंसने में हम दुनिया में नंबर एक हैं.

मई 19, 2017, 03:06 PM IST

डियर जिंदगी : काश! सुसाइड करने वाले बच्‍चे समझ पाते, 'लोग कुछ नहीं कहते...'

उनकी आवाज बेदम थी. बड़ी मुश्किल से टूटे-फूटे शब्‍दों में उन्‍होंने जो कहा वह दिल दहला देने वाला था. 'दसवीं के रिजल्‍ट वाले दिन उनके बेटे और बेटी ने सुसाइड कर लिया. पहले बहन फि‍र भाई ने.

मई 18, 2017, 02:31 PM IST

डियर ज़िंदगी' : बच्‍चों की आत्‍महत्‍या;लोग क्‍या कहेंगे -2

दुनिया में कोई ऐसा सपना है, जो किसी असफलता से टूट सकता है. एक शब्‍द में इसका सटीक जवाब है- नहीं. ये सपने टूटते वक़्त महसूस नहीं होते, क्‍योंकि हम यह नहीं जानते कि हमारी नियति क्‍या है? हमें जाना कहां हैं? जबकि ज़िंदगी जैसे ही एक रास्‍ता बंद करती है, तुरंत दूसरा खोलती है, हमें तो बस तैयार होना होता है. ज़िंदगी अवसर का पर्यायवाची है.

मई 17, 2017, 03:03 PM IST

'डियर जिंदगी': बच्‍चों की आत्‍महत्‍या; सबसे बड़ा डर, लोग क्‍या कहेंगे-1

भारत में पाए जाने वाले 'डर' में सबसे बड़ा है, लोग क्‍या कहेंगे! यह डर भारतीयों की चेतना में बहुत गहरा बैठा हुआ है. यह हमारे साहसी, इनोवेटिव होने में सबसे बड़ी बाधा. इसके कारण हम बने-बनाए रास्‍तों पर चलते रहते हैं. लीक से बंधे हुए.

मई 16, 2017, 02:31 PM IST

'डियर जिंदगी' : क्‍या आपका बच्‍चा आत्‍महत्‍या के खतरे से बाहर है...

'डियर जिंदगी' को पिछले सप्‍ताह सबसे अधिक प्रतिक्रियाएं मध्य प्रदेश और भोपाल से मिलीं. जहां एमपी बोर्ड की दसवीं और बारहवीं परीक्षाओं के रिजल्‍ट घोषित हुए हैं. शुक्रवार को नौ से अधिक बच्‍चों ने सुसाइड कर लिया. इनमें सबसे चौंकाने वाला नाम भोपाल से नमन जड़वे का है. नमन को 74 प्रतिशत अंक मिले थे.

मई 15, 2017, 03:30 PM IST

डियर जिंदगी : आपने 'उसे' अब तक माफ नहीं किया...

किसी भी रिश्‍ते में असली सॉरी को स्‍वीकार करना इतना भी मुश्किल नहीं है. जितना इन दिनों देखने को मिल रहा है. बस 20 सेकंड इस छोटी भावुक, प्रेरक कहानी को दे दीजिए..

मई 12, 2017, 03:34 PM IST