आपके जीवन में क्रांति ला देंगे ये नए टेक्नोलॉजी, 2020 में होंगे लांच

वाशिंगटन विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने ऐसी तकनीक विकसित की है जो गैजेट को केवल टीवी, रेडियो, मोबाइल फोन और वाई-फाई सिग्नल से कटी हुई एनर्जी का उपयोग करके काम करने और कम्यूनिकेट करने में मदद करती है.

आपके जीवन में क्रांति ला देंगे ये नए टेक्नोलॉजी, 2020 में होंगे लांच
फाइल फोटो

2020 में ऐसी कई नयी टेक्नोलॉजी आने वाली है जो हैरान तो करेगी ही पर उसके अलावा जिंदगी को आसान करने और सहुलियत बढ़ाने में भी मदद करेंगी। बिना ड्राइवर की कार, 5 जी हाई स्पीड नेट और वर्चुअल रियलिटी हेडसेट इसमें काफी ख़ास है. तो आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ मजेदार लेकिन कारगर नई इन्वेंशंस और  इन स्पेशल एक्स्ट्राऑर्डिनरी गैजेट्स के बारे में....

वायरलेस स्मार्ट होम गैजेट्स
बैटरी की समस्या स्मार्टफोन्स से लेकर लैपटॉप और स्मार्ट वॉचेस तक हर जगह देखने को मिलती है पर कैसा हो अगर चार्जिंग की कोई प्रॉब्लम ही न हो बल्कि आपके आस पास मौजूद रेडियो वेव्स से ही आपका फ़ोन चार्ज होने लगे. जी हाँ वाशिंगटन विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने ऐसी तकनीक विकसित की है जो गैजेट को केवल टीवी, रेडियो, मोबाइल फोन और वाई-फाई सिग्नल से कटी हुई एनर्जी का उपयोग करके काम करने और कम्यूनिकेट करने में मदद करती है.

वायरलेस स्मार्ट होम गैजेट्स
वायरलेस स्मार्ट होम गैजेट्स

हेल्थ डिटैक्टर गैजेट्स
कितना अच्छा हो अगर आपको पहले से ही पता चल जाए की आपको कोनसी बीमारी होने वाली है, जिससे की आप ज्यादा सतर्कता बरत सकें. स्वास्थ्य अधिकारी और विशेषज्ञों का कहना है की 2020 तक हमारे पास ऐसे गैजेट्स होंगे जो कैंसर, इम्यून सिस्टम, आंतों की बिमारिओं और डायबिटीज के बारे में आगाह करने और उनका निदान करने में पूरी तरीके से हमारी मदद कर सकेंगें. Google ने छोटे चुंबकीय कणों को विकसित करना बहुत पहले ही शुरू कर दिया था, जो शरीर के अंदर जाकर बायोमार्कर खोज सकते थे और कैंसर, अन्य बीमारियों की उपस्थिति का भी संकेत दे सकते हैं. Mi स्मार्ट बेंड़, एप्पल वॉच सीरीज, फिटबिट चार्ज 3 इसके सबसे प्रचलित उदाहरण है.

हेल्थ डिटैक्टर गैजेट्स
हेल्थ डिटैक्टर गैजेट्स

5G तकनीक
4G के बाद अब 5G का लोगो को बेसब्री से इंतज़ार है और आखिर हो भी क्यों न भला. 5G बेहतर तकनीक और लाज़वाब स्पीड के साथ आएगा. काफी सारे इंडस्ट्रियल ग्रुप्स की नज़र पहले से ही 5G नेटवर्क पर है. 2018 से 5G नेटवर्क को प्रयोग में लाने की कोशिश जारी है जो की 2020 में तैनात कर दी जाएगी. 4G स्मार्टफोन्स की तुलना में यूजर्स 5G के साथ ज्यादा फ़ास्ट स्पीड का अनुभव ले पाएंगे जिसका मतलब है तेजी से लोड करने वाले ऐप्स और वेबसाइट, वीडियो के लाइटनिंग-स्पीड डाउनलोड. साल 2020 के अंत तक भारत में भी 5G तकनीक को लाने की पूरी कोशिशें जारी हैं.

5G तकनीक
5G तकनीक

वर्चुअल रियलिटी हेडसेट
देखा जाये तो बहुत ही कम लोगो को वर्चुअल रियलिटी हेडसेट को आजमाने का मौका मिला है. कई बड़े हेडसेट निर्माता और निवेशकों की ये अवधारणा है की आने वाले युग में हेडसेट एंटरटेनमेंट और कम्युनिकेशन के इस दौर में अगली बड़ी चीज होने जा रहे हैं. जैसा कि निक विंगफील्ड ने द न्यूयॉर्क टाइम्स के लिए हाल ही में एक रिपोर्ट में कहा कि वर्चुअल रियलिटी का मार्किट पर असर न छोड़ने का सिर्फ एक कारण हो सकता है जो है इसका हद से ज्यादा महंगा होना. PSVR, फेसबुक का ओकुलस रिफ्ट 2018 में सबसे ज्यादा बिकने वाले वर्चुअल रियलिटी हेडसेट में से है.

वर्चुअल रियलिटी हेडसेट
वर्चुअल रियलिटी हेडसेट