close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

विदेशी पर्यटकों की पसंदीदा जगह है लेह, 2018 में 3 लाख सैलानी पहुंचे

लद्दाख की पेंगांग लेक को कई फिल्मों में फिल्माया गया है.

विदेशी पर्यटकों की पसंदीदा जगह है लेह, 2018 में 3 लाख सैलानी पहुंचे
फाइल फोटो.

जम्मू: जम्मू-कश्मीर का लेह जिला विदेशी पर्यटकों का सबसे पसंदीदा पर्यटन स्थल बनकर उभरा है. पिछले साल दूसरे देशों के करीब 50,000 लोगों ने इस इलाके का भ्रमण किया. अधिकारियों ने बताया कि 3,524 मीटर की ऊंचाई पर स्थित जिले में 2018 में सैर-सपाटे के लिए आने वाले कुल पर्यटकों की संख्या भी तीन लाख के आंकड़े को पार कर गयी. उनके मुताबिक यह एक रिकॉर्ड है.

राज्य के पर्यटन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, “2018 में 49,477 विदेशी पर्यटकों सहित 3,27,366 लोगों ने लेह की यात्रा की. यह इससे पिछले साल के मुकाबले 50,000 अधिक है.” उन्होंने बताया कि 2011 में पहली बार जिले का दौरा करने वाले पर्यटकों की संख्या लाख में पहुंची. उस साल 36,662 विदेशियों सहित कुल 1,79,491 पर्यटकों ने लेह जिले का दौरा किया था.

पूर्वी सीमा पर चीनी सेना के जमावड़े की काट के लिए भारत लेह भेज रहा है ITBP कमान

लद्दाख की पेंगांग लेक को कई फिल्मों में फिल्माया गया है. यहां की खूबसूरती स्वर्ग जैसी है, जिसकी वजह से यहां सैलानी  बड़ी संख्या में आते हैं. पेंगांग लेक समुद्र तल से 14 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित है. इस झील को दुनिया की सबसे ऊंची, गहरी और लम्बी झील भी कहा जाता है. ये झील 134 किलोमीटर लम्बी और 700 फुट से लेकर 4 किलोमीटर तक चौड़ी है. इसकी गहराई 120 फुट से लेकर 200 फुट तक है.

(इनपुट-एजेंसी)