close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमेरिका को लादेन का पता बताने वाले डॉक्टर को पाकिस्तान ने जेल से भेजा 'कहीं और'

डॉक्टर शकील अफरीदी को पेशावर जेल से पंजाब में एक सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया है

अमेरिका को लादेन का पता बताने वाले डॉक्टर को पाकिस्तान ने जेल से भेजा 'कहीं और'
आतंकी ओसामा बिन लादेन का सुराग अमेरिका को देने वाले डॉक्टर के बारे में नई जानकारी सामने आई (फाइल फोटो)

नई दिल्ली (सिद्धांत सिबल): आतंकी ओसामा बिन लादेन का सुराग अमेरिका को देने वाले डॉक्टर के बारे में नई जानकारी सामने आई है. बताया जा रहा है कि एबटाबाद में ओसामा बिन लादेन का पता लगाने में मदद करने वाले डॉक्टर को जेल से कहीं और शिफ्ट कर दिया गया है. जी मीडिया के सहयोगी और अंतर्राष्ट्रीय चैनल WION के हाथ लगी जानकारी के मुताबिक डॉक्टर शकील अफरीदी को पेशावर जेल से पंजाब में एक सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया है. बताया जा रहा है कि गुरुवार को अफरीदी को खुफिया अधिकारियों द्वारा पंजाब में किसी सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया है. आपको बता दें कि पिछले 8 सालों से जेल में बंद शकील अफरीदी को रिहा करने के मामले को अमेरिकी सरकार बार-बार उठा रही है.

शकील अफरीदी ने अमेरिका को बताया था लादेन का पता
यहां आपको यह भी बता दें कि शकील अफरीदी वही डॉक्टर हैं जिन्होंने सात साल पहले वैक्सिनेशन देने के बहाने लादेन के छिपने के ठिकाने की सूचना अमेरिकी एजेंसी सीआईए को दी थी. उसकी सूचना के आधार पर ही अमेरिका लादेन को खोज सका था. इसके बाद अमेरिका ने कमांडो दस्ते (सील) की मदद से पाकिस्तान में घुसकर ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था. अमेरिका हमेशा से शकील की रिहाई की मांग करता रहा है, मगर पाकिस्तान ने उस पर झूठे आरोप लगाकर जेल में डाल रखा है.

अमेरिका करता है सजा का विरोध
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डॉक्टर शकील अफरीदी को पाकिस्तान में 33 साल की सजा दी गई है. अमेरिका ने इसका पुरजोर विरोध किया है. अमेरिका का कहना कि शकील को लादेन का पता देने की सजा दी जा रही है. यह सब बदले की भावना से किया जा रहा है. पाकिस्तान में शकील को पहले पेशावर की जेल में रखा गया था. अब उन्हें किसी गुप्त स्थान पर पहुंचा दिया गया है.

लादेन ने कर रखी थी अमेरिका के खिलाफ युद्ध की घोषणा
आपको बता दें कि आतंकी ओसामा बिन लादेन का नाम अमरीका पर 9/11 के हमलों के बाद दुनिया भर में चर्चा में आया था. दरअसल, मध्य पूर्व में अमरीकी सेना की मौजूदगी से नाराज ओसामा बिन लादेन ने 1998 में अमेरिका के खिलाफ युद्ध की घोषणा कर दी थी.