• 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

'कंगाल' हो चुके पाकिस्तान को अब 'कर्ज' का ही सहारा, चीन का उधार पड़ा कम तो IMF से मांगी मदद

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) का प्रतिनिधमंडल नकदी के संकट से जूझ रहे पाकिस्तान के लिए राहत पैकेज पर चर्चा करने के लिए सोमवार को यहां पहुंचा.

'कंगाल' हो चुके पाकिस्तान को अब 'कर्ज' का ही सहारा, चीन का उधार पड़ा कम तो IMF से मांगी मदद
.(फाइल फोटो)

इस्लामाबाद: अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) का प्रतिनिधमंडल नकदी के संकट से जूझ रहे पाकिस्तान के लिए राहत पैकेज पर चर्चा करने के लिए सोमवार को यहां पहुंचा. वित्त मंत्रालय के सलाहकार व प्रवक्ता डॉ. खाकन नजीब के अनुसार, पाकिस्तान के दौरे पर आई आईएमएफ की टीम मंत्रालय संघीय राजस्व बोर्ड और स्टेट बैंक के अधिकारियों से मिलेंगी. जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, दोनों पक्ष पाकिस्तान को सात से आठ अरब डॉलर का कर्ज प्रदान करने की संभावना पर विचार-विमर्श करेंगे.

नजीब ने पिछले सप्ताह कहा था, "आंकड़ों और समष्टिगत आर्थिक रूपरेखा को अंतिम रूप प्रदान करने की व्यापक तैयारी और संरचनागत सुधार की प्रक्रिया जारी है." उन्होंने कहा कि वित्त मंत्रालय ने पाकिस्तानी स्टेट बैंक, पावर व गैस संभाग, निजीकरण आयोग, संघीय राजस्व बोर्ड और बेनजीर आय सहायता कार्यक्रम समेत प्रमुख हिस्सेदारों के साथ पूरी तरह विचार-विमर्श किया है.

चीन में बेल्ट एंड रोड फोरम के सम्मेलन के मौके पर शुक्रवार को प्रधानमंत्री इमरान खान ने आईएमएफ की निदेशक क्रिस्टीन लेगार्ड से मुलाकात की थी. मुलाकात के दौरान पाकिस्तान के लिए आईएमएफ कार्यक्रम की अहमियत को लेकर दोनों पक्षों के बीच सहमति बनी और पाकिस्तान व आईएमएफ के बीच रिश्ते की समीक्षा की गई.