डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव में महाभियोग प्रस्ताव पारित

महाभियोग की वोटिंग से पहले सदन की बहस के समय पर ट्रंप ने बुधवार तड़के से ट्वीट कर और रीट्वीट किए गए ट्वीट्स कर डेमोक्रेट्स के महाभियोग के प्रयास को देश के साथ-साथ रिपब्लिकन पार्टी पर 'एक हमला' करने का प्रयास बताया.

डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव में महाभियोग प्रस्ताव पारित
डोनाल्ड ट्रंप

वाशिंगटन: अमेरिका में डेमोक्रेटिक की अगुआई वाले हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव ने बुधवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव में वोट दिया. इसके साथ इस सदन में उनपर महाभियोग प्रस्ताव पारित हो गया है. ट्रंप पर कांग्रेस को बाधित करने और सत्ता का दुरुपयोग करने का आरोप है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, वोटिंग समाप्त होने पर ट्रंप अमेरिका के इतिहास के तीसरे ऐसे राष्ट्रपति बन गए हैं, जिनपर महाभियोग होगा.

महाभियोग की वोटिंग से पहले सदन की बहस के समय पर ट्रंप ने बुधवार तड़के से ट्वीट कर और रीट्वीट किए गए ट्वीट्स कर डेमोक्रेट्स के महाभियोग के प्रयास को देश के साथ-साथ रिपब्लिकन पार्टी पर 'एक हमला' करने का प्रयास बताया.

ट्रंप ने महाभियोग को अमेरिकी लोकतंत्र में युद्ध की घोषणा जैसा बताया
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को एक पत्र लिखकर हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी और विपक्षी डेमोक्रेटिक पर तख्तापलट की कोशिश करके अमेरिकी लोकतंत्र को नष्ट करने का आरोप लगाते हुए निशाना साधा. समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ पूरी जांच 'अमेरिकी लोकतंत्र पर खुलेआम युद्ध की घोषणा है.' और मांग की कि 'प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैन्सी पेलोसी महाभियोग प्रक्रिया को फौरन रोक दें.'

ट्रंप ने पेलोसी को लिखे पत्र में कहा, 'अवैध महाभियोग प्रक्रिया के साथ आगे बढ़ते हुए, आप अपने पद की शपथ का उल्लंघन कर रही हैं, आप संविधान के प्रति अपनी निष्ठा को तोड़ रही हैं और आप अमेरिकी लोकतंत्र में खुलेआम युद्ध की घोषणा कर रही हैं.' छह पेज वाले पत्र में विपक्षी डेमोक्रेट पर निशाना साधा गया है.

उन्होंेने कहा, 'आप वे हैं जो अमेरिका के चुनावों में हस्तक्षेप कर रहे हैं. आप अमेरिका के लोकतंत्र को प्रभावित कर रहे हैं. आप न्याय को बाधित करने वाले हैं. आप अपने खुद के व्यक्तिगत, राजनीतिक और दलगत लाभ के लिए हमारे गणराज्य में दर्द और तकलीफ ला रहे हैं.'

इस बुधवार को निचले सदन का एक पूरा सत्र ट्रंप के खिलाफ आरोपों पर मतदान करने के लिए निर्धारित है, जो संभवत: बड़े डेमोक्रेटिक बहुमत के कारण तुरंत पारित हो जाएगा, जो बदले में ट्रंप को पद से हटाने के लिए सीनेट में एक प्रक्रिया शुरू करने के लिए ग्रीन सिग्नल होगा, जो जनवरी में शुरू होगा.

ये भी देखें-: