close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तेज भूकंप से हिल गया मंगल ग्रह, इंसानी बस्‍ती बसाने की चल रही है तैयारी

नासा ने एक बयान में कहा कि संभवत: ग्रह के भीतर से भूकंपीय संकेत मिले हैं और ऐसा पहली बार हुआ है. इससे पहले सतह के ऊपर के वायु जैसे कारकों के कारण भूकंपीय संकेत मिलते थे.

तेज भूकंप से हिल गया मंगल ग्रह, इंसानी बस्‍ती बसाने की चल रही है तैयारी
मंगल ग्रह पर आया भूकंप. फाइल फोटो

वॉशिंगटन : नासा द्वारा प्रक्षेपित रोबोटिक लैंडर ‘इनसाइट’ ने पहली बार मंगल पर संभवत: ‘‘भूकंप’’दर्ज किया है. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी ने यह जानकारी दी. लैंडर के भूकंपमापी यंत्र ‘साइस्मिक एक्सपेरिमेंट फॉर इंटीरियर स्ट्रक्चर’ (एसईआईएस) ने छह अप्रैल को कमजोर भूकंपीय संकेतों का पता लगाया. ‘इनसाइट’ का छह अप्रैल को मंगल पर 128वां दिन था. बता दें कि मंगल ग्रह पर वैज्ञानिक मानव बस्‍ती बसाने पर शोध कर रहे हैं.

 

नासा ने एक बयान में कहा कि संभवत: ग्रह के भीतर से भूकंपीय संकेत मिले हैं और ऐसा पहली बार हुआ है. इससे पहले सतह के ऊपर के वायु जैसे कारकों के कारण भूकंपीय संकेत मिलते थे. संकेत के सटीक कारण का पता लगाने के लिए वैज्ञानिक अब भी डेटा की जांच कर रहे हैं.

अमेरिका में नासा की ‘जेट प्रपल्शन लैबोरेटरी’ में ‘इनसाइट प्रिंसिपल इन्वेस्टिगेटर’ ब्रूस बैनर्डट ने कहा, ‘‘इनसाइट से मिली पहली जानकारियां नासा के अपोलो मिशन से शुरू हुए विज्ञान को आगे बढ़ाती हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस घटनाक्रम ने आधिकारिक रूप से एक नया क्षेत्र खोल दिया है: वह है मंगल पर भूकंप विज्ञान.’’