भारत संग तनातनी के बीच नेपाल के बदले सुर, पीएम मोदी की तारीफ में कही ये बात

 भारत और नेपाल (India-Nepal Dispute) के संबंधों में तल्खी बरकरार है. इस बीच एक बार फिर से पड़ोसी देश नेपाल (Nepal) ने भारत के साथ दोस्ती का हाथ आगे बढ़ाया है.

भारत संग तनातनी के बीच नेपाल के बदले सुर, पीएम मोदी की तारीफ में कही ये बात
पीएम मोदी और नेपाल के पीएम केपी शर्मा (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारत और नेपाल (India-Nepal Dispute) के संबंधों में तल्खी बरकरार है. इस बीच एक बार फिर से पड़ोसी देश नेपाल (Nepal) ने भारत के साथ दोस्ती का हाथ आगे बढ़ाया है. नेपाल ने भारत की तारीफ करते हुए कहा कि मोदी सरकार (Modi Government) ने कोरोना (Coronavirus) लॉकडाउन के दौरान भी यह सुनिश्चित किया कि नेपाल में जरूरी चीजों की आपूर्ति की कमी न हो. 

वहीं भारत ने भी नेपाल के साथ सीमा विवाद और कोरोना को फैलने से रोकने के ​​सहयोग पर बात की है. विदेशी मंत्रालय की वीकली मीटिंग में भारत से MEA के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा, 'भारत नेपाल के साथ अपनी सभ्यता, सांस्कृतिक और मैत्रीपूर्ण संबंधों को गहराई से महत्व देता है. हाल के कुछ सालों में हमारी द्विपक्षीय साझेदारी का विस्तार है. जिसके चलते नेपाल की मानवीय, विकास और संपर्क परियोजनाएं में भारत का ध्यान आकर्षित हुआ है.'

ये भी पढ़ें: नेपाली PM ने Yogi के बयान पर जताई नाराजगी, कोरोना के लिए फिर भारत पर साधा निशाना

वहीं कोरोना संकट काल के बीच काठमांडू विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, 'भारत ने नेपाल को हर संभव तकनीकी, चिकित्सा और मानवीय सहायता प्रदान की है.' उन्होंने आगे कहा, 'भारत सरकार ने यह भी सुनिश्चित किया है कि लॉकडाउन के बावजूद नेपाल को व्यापार और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में कोई कमी न रहे.'

नेपाल ने भारत की तारीफ करते हुए कहा कि भारत ने नेपाल को पैरासिटामॉल और हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वाइन (एचसीक्यू) दवाओं, टेस्टिंग किट और अन्य मेडिकल संबंधी जरूरी चीजों को उलपब्ध कराया. इतना ही नहीं भारत ने विदेशों में फंसे नेपाली नागरिकों की सुरक्षित घर वापसी कराने में भी मदद की है.

आपको बता दें कि  नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) ने हाल ही में भारत पर आरोप लगाते हुए कहा था कि  देश में कोरोना के 85% मामले भारत से आये हैं. नेपाल शुरुआत से ही भारत की वजह से संक्रमितों की संख्या में वृद्धि की बात कहता आ रहा है.