चीन को चेतावनी पर बोला पाकिस्‍तान, 'मसूद अजहर पर किसी के दबाव में नहीं आएंगे'

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने गुरुवार को यह बात कही. भारत का आरोप है कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के पीछे पाकिस्तान स्थित अजहर के जैश-ए-मोहम्मद का हाथ है. 

चीन को चेतावनी पर बोला पाकिस्‍तान, 'मसूद अजहर पर किसी के दबाव में नहीं आएंगे'
मसूद अजहर पर पाकिस्‍तान ने दी प्रतिक्रिया. फाइल फोटो

इस्लामाबाद : मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगाने के मामले पर पाकिस्तान किसी के भी ‘दबाव’ में नहीं आएगा. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने गुरुवार को यह बात कही.

फैसल का यह बयान चीन के उन रपटों को खारिज करने के बाद आया है जिसमें यह कहा गया था कि अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने चीन को अल्टीमेटम दिया है कि वह संयुक्त राष्ट्र द्वारा जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित करने के मसले पर अपने ‘तकनीकी रोक’ को हटा ले.

 

फैसल ने कहा कि अजहर पर पाकिस्तान का रुख स्पष्ट है. भारत का आरोप है कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के पीछे पाकिस्तान स्थित अजहर के जैश-ए-मोहम्मद का हाथ है. इस हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 40 जवान शहीद हो गए थे.

अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित करने पर चीन द्वारा तकनीकी रोक लगाए जाने के मसले पर फैसल ने कहा, ‘‘इस मामले में पाकिस्तान जो भी निर्णय करेगा वह उसके राष्ट्रहित में होगा. पाकिस्तान इसमें किसी के दबाव में नहीं आएगा.’’ चीन ने बुधवार को उन खबरों को खारिज कर दिया कि अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने इस मामले पर उसे अल्टीमेटम दिया है.