अमेरिका की पहली हिंदू महिला सांसद बोलीं, 'आतंकवादियों के खिलाफ खड़े हों पाकिस्तानी नेता'
Advertisement

अमेरिका की पहली हिंदू महिला सांसद बोलीं, 'आतंकवादियों के खिलाफ खड़े हों पाकिस्तानी नेता'

भारतीय सेना ने पुलवामा हमले का बदला लेते हुए 26 फरवरी को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में घुसकर आतंकियों के ठिकानों को तबाह कर दिया था. 

फाइल फोटो

वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार बनने की दावेदार तुलसी गबार्ड ने आतंकवादियों को पनाहगाह मुहैया कराने को लेकर पाकिस्तान की आलोचना की और कहा कि अब समय आ गया है कि पाकिस्तानी नेता आतंकवादियों के खिलाफ खड़े हों. हवाई से चार बार सांसद रहीं गबार्ड ने कहा, ‘‘अब समय आ गया है कि पाकिस्तानी नेता कट्टरपंथियों और आतंकवादियों के खिलाफ खड़े हों.’’ साथ ही कांग्रेस के सदस्य टेड योहो ने भी पाकिस्तान से कहा कि वह आतंकवादी संगठनों से निपटने के लिए सार्थक कदम उठाए.

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस और हिंद-प्रशांत क्षेत्र भारत और पाकिस्तान के बीच हालिया तनावपूर्ण स्थिति पर नजर रखे हुए हैं.’’ योहो ने कहा, ‘‘मैं पाकिस्तान से अपील करता हूं कि वह अपने देश में काम कर रहे आतंकवादी समूहों से निपटने के लिए सार्थक कदम उठाए और दोनों देश अपने मतभेद शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाएं.’’ उल्लेखनीय है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद भारत ने बालाकोट में जैश के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर हवाई हमले किए थे. 

भारत सरकार ने कहा है कि इस अभियान में जैश के अनेक आतंकवादी, उनके प्रशिक्षक, कमांडर मारे गए और जिहादी समूह नष्ट हो गए जो आत्मघाती हमलों का प्रशिक्षण ले रहे थे. बता दें कि भारतीय सेना ने पुलवामा हमले का बदला लेते हुए 26 फरवरी को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में घुसकर आतंकियों के ठिकानों को तबाह कर दिया था. PoK में चल रहे आतंकी कैंपों को निशाना बनाते हुए भारतीय वायुसेना के विमानों से बमबारी की थी.

(इनपुट भाषा से)

Trending news