Amit Shah EXCLUSIVE: ममता जहां जाएंगी 'जय श्रीराम' का नारा सुनना पड़ेगा

ज़ी मीडिया (ZEE Media) से EXCLUSIVE बातचीत करते हुए अमित शाह ने कहा कि बंगाल में सिर्फ एंटी बीजेपी वोट का बंटवारा होना बाकी है, हमारे वोट हमारे पास है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Feb 19, 2021, 04:47 PM IST
  • Zee Hindustan पर अमित शाह
  • 'बीजेपी की लिस्ट में दिखेगा मंत्रिमंडल'
  • अब TMC के गुंडे मांगेंगे सुरक्षा- शाह
Amit Shah EXCLUSIVE: ममता जहां जाएंगी 'जय श्रीराम' का नारा सुनना पड़ेगा

कोलकाता: पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Election) को देखते हुए सरगर्मी बढ़ती जा रही है. भाजपा और TMC के बीच छिड़े घमासान के बीच गृहमंत्री अमित शाह ने ZEE Media से EXCLUSIVE बात की है. इस संवाद के दौरान उन्होंने क्या खास कहा आपको बताते हैं.

अमित शाह का एक्सक्लूसिव इंटरव्यू

'पश्चिम बंगाल में परिवर्तन निश्चित है. देश का मूड बदल चुका है, बंगाल का मूड भी बदलेगा. बंगाल में राजनीतिक हिंसा करने वाले सुरक्षित नहीं रहेंगे.'

जय श्रीराम का नारा सुनना पड़ेगा

'बंगाल में तुष्टीकरण की राजनीति को ममता ने चरम पर पहुंचाया. जय श्रीराम बंगाल में धार्मिक नारा नहीं, जय श्री राम बंगाल में तुष्टीकरण के खिलाफ आक्रोश का नारा है. जय श्रीराम का नारा हम नहीं जनता लगा रही है. ममता जहां जाएंगी जय श्रीराम का नारा सुनना पड़ेगा.'

'बंगाल में सरकार बनी तो कई चीजों को ठीक करना होगा. पहली प्राथमिकता, बंगाल की कानून-व्यवस्था सुधारना है.'

'सोनार-बांग्ला' का मतलब- हर बंगाली अभिव्यक्ति के लिए स्वतंत्र हो
'सोनार-बांग्ला' का मतलब- हर युवाओं को रोजगार मिले
'सोनार-बांग्ला' का मतलब- बंगाल की अस्मिता को जागरूक करना
'सोनार-बांग्ला' का मतलब- बंगाल की सांस्कृतिक चेतना को जगाना

कौन बनेगा बंगाल का CM?

'सोनार बांग्ला सिर्फ आर्थिक विकास का परिचायक नहीं है. हमारे उम्मीदवारों की लिस्ट में आपको मंत्रिमंडल दिखाई देगा. पश्चिम बंगाल का मुख्यमंत्री तो बंगाल का ही होगा. बंगाल में पैदा हुआ और पला-पढ़ा ही बंगाल का सीएम होगा.'

'हम पश्चिम बंगाल में पूरी सोच के साथ सरकार बनाने जा रहे हैं. सूची आएगी, तो बिना कहे हमारा मंत्रिमंडल दिख जाएगा. पश्चिम बंगाल की लड़ाई ममता और बंगाल की जनता के बीच में.'

'बंगाल का सीएम, बंगाल में जन्मा, बंगाल में ही पला-बढ़ा होगा. पश्चिम बंगाल का चुनाव आक्रोश, परिवर्तन की इच्छा का चुनाव. अभी बंगाल सरकार सिर्फ संवैधानिक कार्यकाल पूरा कर रही है.'

'अब TMC के गुंडे मांगेंगे सुरक्षा'

'बंगाल में ऐसी हिंसा है कि यहां गुंडे भी डरे हुए हैं. जैसे जैसे चुनाव आगे बढ़ेगा, सुरक्षा TMC के गुंडों को लेनी पड़ेगी. कोई आंदोलन देश में परिवर्तन का रास्ता नहीं रोक सकता है.'

'हमारी सरकार बनी तो हिंसा करने वालों को सजा देंगे. हिंसा की जांच जिस-जिस पर आएगी, उस पर कार्रवाई होगी. बंगाल में राजनीतिक हिंसा करने वाले नहीं बचेंगे. हिंसा के जिम्मेदार लोगों पर हर हाल में कार्रवाई होगी.'

किसानों पर दीदी को लगाई लताड़

'कम्युनिस्टों की वजह से बंगाल की राजनीति में हिंसा की संस्कृति. भारत में वामपंथी आंदोलन खत्म हो चुका है. जनता जिसकी बात सच मानेगी उसको वोट देगी. कृषि कानूनों पर जनता तय करेगी कौन सच्चा है. पश्चिम बंगाल के किसानों को सम्मान निधि क्यों नहीं मिलती? बंगाल के किसानों को 6000 रुपये देंगे, पुराना बकाए के साथ.'

CAA पूरे देश पर होगा लागू

'CAA देश का कानून है, सभी जगहों पर लागू होगा. शरणार्थियों को नागरिकता पर कांग्रेस का वादा हमने पूरा किया. 70 साल का वादा हमने 1 वर्ष में पूरा किया. शरणार्थियों को कोई नहीं निकाल सकता, उन्हें मताधिकार भी मिलेगा.

'मतुआ समाज को नागरिकता नहीं देना चाहती हैं ममता बनर्जी. CAA राजनीतिक मुद्दा नहीं, देश से किया गया वादा है, जो पूरा किया.'

भाई-भतीजावाद पर शाह का प्रहार

'बंगाली संस्कृति चुनावी मुद्दा क्योंकि यहां की संस्कृति को नुकसान हुआ. गोली-बंदूक, भाई-भतीजावाद बंगाल की संस्कृति नहीं है.'

'ममता बनर्जी बड़ी नेता हैं, लेकिन वो विफल हो चुकी हैं. 2019 में 20 सांसदों की जीत के दावों पर भी सबको आशंका थी. परिवर्तन के लिए बंगाल की जनता बीजेपी के साथ है.'

'हर प्रधानमंत्री को बंगाल की चिंता होना स्वाभाविक है. पश्चिम बंगाल की सीमाएं देश की सीमा है, इसलिए भी चिंता है. मोदी जी चिंता कर रहे हैं, वो हर प्रधानमंत्री करता है.'

'सिर्फ एंटी बीजेपी वोट का बंटवारा बाकी'

'बंगाल में अब सिर्फ एंटी-बीजेपी वोट का बंटवारा बाकी है. बंगाल में बीजेपी के पास उसका वोटर आ चुका है. मोदी जी की स्पर्द्धा में इस वक्त कोई भी नेता आस-पास नहीं है.'

इसे भी पढ़ें- ममता दीदी की 'बम पॉलिटिक्स', मंत्री पर हमले के लिए केंद्र पर लगाए गंभीर आरोप

'बीजेपी पर सांप्रदायिकता का आरोप इंदिरा जी के वक्त भी लगता था. बंगाल के अंदर सुशासन स्थापित करना बीजेपी का एजेंडा. बंगाल के लोगों को क्यों केंद्रीय योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है?'

'कांग्रेस और लेफ्ट गठबंधन पर टिका है, तृणमूल कांग्रेस का भविष्य. बीजेपी को पश्चिम बंगाल में 200+ सीटें आएगी.'

इसे भी पढ़ें- Bengal election: शरणार्थी के घर अमित शाह ने किया भोजन, जानिए थाली में क्या परोसा गया

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप. 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़