• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 6,28,747 और अबतक कुल केस- 21,53,010: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 14,80,884 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 43,379 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 68.32% से बेहतर होकर 68.78% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 53,878 मरीज ठीक हुए
  • सरकार ने 500 करोड़ का आवंटन आत्म निर्भर अभियान के तहत मधुमक्खी पालन बढ़ाने के लिए किया
  • शहद का उत्पादन 242% बढ़ा और निर्यात 265% बढ़ा
  • 115 जिलों में एमएसएमई पदचिह्न बढ़ाने के लिए पहल
  • ₹50 करोड़ तक का सेक्टर निवेश और MSME की नई परिभाषा में 250 करोड़ तक का कारोबार
  • ₹50 करोड़ तक का सेक्टर निवेश और MSME की नई परिभाषा में 250 करोड़ तक का कारोबार
  • यह डिजिटल और आउटडोर इंस्टॉलेशन से सुसज्जित है, जो स्वछता पर जानकारी और शिक्षा प्रदान करता है
  • अगले पांच वर्षों में पीएलआई योजना के तहत ₹11.5 लाख करोड़ रुपये के मोबाइल फोन और इसके पुर्जे तैयार किए जाएंगे

खुल गया राज़: सुशांत के नौकर और बांद्रा के ब्रोकर ने किया बहुत बड़ा खुलासा

बिहार पुलिस ने सुशांत सिंह राजपूत के नौकर से पूछताछ की जिसमें एक चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है. अबतक एक दिन पहले सुशांत के घर पार्टी वाली बात झूठी साबित होती दिख रही है.. वहीं बांद्रा के एक ब्रोकर ने भी रिया के राज़ खोल दिये हैं.

खुल गया राज़: सुशांत के नौकर और बांद्रा के ब्रोकर ने किया बहुत बड़ा खुलासा

नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत की रहस्यमयी मौत को लेकर एक के बाद एक परतें खुलती जा रही हैं. सुशांत सिंह राजपूत के नौकर ने एक ऐसा चौंकाने वाला खुलासा किया है, जिसके बाद मुंबई पुलिस सवालों के घेरे में है, वहीं बांद्रा के एक ब्रोकर ने भी बहुत बड़ा खुलासा किया है.

सुशांत सिंह राजपूत मामले में एक और बड़ी खबर

  • सुशांत के नौकर ने पूछताछ के दौरान किया खुलासा
  • 'खुदकुशी से पहले सुशांत के घर कोई पार्टी नहीं हुई'
  • 13 जून की रात सुशांत खाना खाने के बाद अपने बेडरूम में ही थे

सुशांत सिंह के नौकर ने बिहार पुलिस से पूछताछ के दौरान खुलासा किया है. नौकर के मुताबिक खुदकुशी से पहले सुशांत के घर कोई पार्टी नहीं हुई थी. 13 जून की रात सुशांत सिंह खाना खाने के बाद अपने बेडरूम में ही थे.

इस खुलासे के बाद से मुंबई पुलिस सवालों के घेरे में है. इतने दिनों से हर जगह यही जानकारी फैलाई जा रही थी कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत से एक दिन पहले पार्टी हुई थी. अब जब नौकर ने ये खुलासा किया तो मुंबई पुलिस की जांच का दायरा शक के निगाहों से देखा जा रहा है.

बांद्रा के एक ब्रोकर ने किया बड़ा खुलासा

वहीं बांद्रा के एक ब्रोकर सनी सिंह ने किया ज़ी मीडिया से बातचीत में बड़ा खुलासा किया है. सनी सिंह का कहना है कि "सुशांत सिंह स्विमिंग पूल, जिम्नेजियम जैसी अमेनिटज के साथ एक पॉश बिल्डिंग में घर लेना चाहते थे, लेकिन मैं शॉक्ड रह गया जब उन्होंने माउंट ब्लैंक जैसी पुरानी बिल्डिंग में फ्लैट फाइनल किया जबकि इस बिल्डिंग में कोई अमेनिटज भी नहीं है. ये सुशांत की चॉइस से बिल्कुल अलग थी."

ब्रोकर ने ये भी बताया कि मैंने सुशांत और रिया को कम से कम 15 फ्लैट्स की लिस्ट दी थी. उन्होंने उसमें से 8 को शॉर्टलिस्ट किया था. सुशांत से सिर्फ दो बार मुलाकात हुई. वे अक्सर कार में ही बैठे रहते और ज्यादातर समय फ्लैट सिर्फ रिया ही देखती थी, ज्यादातर फैसले रिया ही लेती थी.

ब्रोकर सनी सिंह ने खोले रिया के राज़

सनी सिंह ने बताया कि "मैं रिया चक्रवर्ती को 2013 से जानता हूं. उन्होंने मुझे बताया कि मैं और सुशांत साथ में रहना चाहते हैं और कुछ महीनों बाद शादी भी करेंगे. एग्रीमेंट में कोई प्रॉब्लम तो नहीं होगी? मैंने उन्हें बताया कि बांद्रा इलाके में लिव इन रिलेशनशिप में कई कपल रहते हैं, इसलिए कोई प्रॉब्लम नहीं होगी"

सनी सिंह के इस खुलासे से ये बात साफ है कि सुशांत की जिन्दगी में रिया का कंट्रोल किस हद तक था. रिया ने ना सिर्फ सुशांत के सिम कार्ड बदले, उनके बॉडी गार्ड या नौकर को बदला, बल्कि वे किस मकान में रहेंगे इसका फैसला भी रिया ने ही किया. सवाल ये भी ये है कि कहीं रिया ने सुशांत पर मानसिक दबाव बढ़ने के लिए उनकी चॉइस से विपरीत मकान को जानबूझकर तो फाइनल नहीं किया?

सुशांत की मांत के मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस

ED ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया है. अगले सप्ताह रिया को समन भेजे जाने की बात सामने आई है. आपको बता दें इस मामले में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ED से जांच की मांग की थी.

सुशांत केस में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का बयान आया था. फडणवीस ने भी सुशांत केस की जांच CBI को सौंपने की मांग की और कहा कि यही जनता की भी मांग है. साथ ही फडणवीस ने ये भी मांग रखी थी और कहा था कि "साथ ही ED को भी मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप की जांच करनी चाहिए." अब ईडी ने जांच का फैसला ले लिया है.

इसे भी पढ़ें: रिया के भाई शोविक का खर्च उठाते थे सुशांत, बैंक खातों पर EXCLUSIVE जानकारी

वहीं बिहार के औरंगाबाद से बीजेपी सांसद सुशील कुमार सिंह ने CBI जांच की मांग की है. सुशील कुमार सिंह ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को पत्र लिखा है. आपको बता दें, रिया चक्रवर्ती के भाई ने सुशांत की कंपनी के ऑडिटर को नियुक्त किया था. सुशांत सिंह की कंपनी विविडरेज रियलिटी प्रा. लि. कंपनी में संदीप श्रीधर को शोविक ने ऑडिटर बनाया था.

इसे भी पढ़ें: चोर की दाढ़ी में तिनका! रिया और उसका भाई शोविक फरार, 50 सवाल तैयार

इसे भी पढ़ें: बड़ा खुलासा: "सुशांत की बहनों से 'जलती' थी रिया चक्रवर्ती"