Bhagalpur: महिला की धारदार हथियार से हाथ-पैर और स्तन काटकर हत्या, परिजनों ने उठाई ये मांग

बिहार के भागलपुर जिले के पीरपैंती थाना क्षेत्र में सरेआम एक महिला की धारदार हथियार से काटकर हत्या कर दी गई. महिला बाजार से अपने घर लौट रही थी, कि बदमाश ने पहले धक्का मारकर उसे गिरा दिया और फिर उसके अंगों को काट दिया. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 5, 2022, 05:48 PM IST
  • महिला के स्तन पर किया गया वार
  • आरोपियों को फांसी देने की उठी मांग
Bhagalpur: महिला की धारदार हथियार से हाथ-पैर और स्तन काटकर हत्या, परिजनों ने उठाई ये मांग

बिहार: भागलपुर में महिला की हाथ-पैर काटकर हत्या, भाजपा ने की मृतक के परिजनों के लिए 1 करोड़ रुपए मुआवजे की मांग (लीड -1)
भागलपुर: बिहार के भागलपुर जिले के पीरपैंती थाना क्षेत्र में सरेआम एक महिला की धारदार हथियार से काटकर हत्या कर दी गई. महिला बाजार से अपने घर लौट रही थी, कि बदमाश ने पहले धक्का मारकर उसे गिरा दिया और फिर उसके अंगों को काट दिया. इधर, मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा ने मृतक के परिजनों के लिए 1 करोड़ रुपए मुआवजे की मांग की है.

महिला के स्तन पर किया गया वार

पुलिस के मुताबिक, पीरपैंती थाना क्षेत्र के सिंघिया पुल के पास शनिवार देर शाम नीलम देवी अपने पुत्र के साथ घर जा रही थी, तभी पहले से घात लगाए बदमाश ने धारदार हथियार से हमला कर दिया. इस हमले से महिला अचानक गिर गई और उसके बाद उसके हाथ, पैर काट डाले. मृतक के पति का आरोप है कि उसके स्तन तक पर वार किया गया.

भागलपुर के पुलिस अधीक्षक बाबूराम ने सोमवार को आईएएनएस को बताया कि इस मामले में मृतक के परिजनों द्वारा दो लोगों को आरोपी बनाया गया था और पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

इधर, इस घटना पर भाजपा भड़क गई है . भाजपा ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री एवं बिहार भाजपा प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा कि नीतीश सरकार दोषी को संरक्षण देने की बजाय फांसी दें. बिहार सरकार इस सांप्रदायिक घटना की नैतिक जिम्मेदारी लेकर पीड़िता के परिवार को एक करोड़ मुआवजा दे.

आरोपियों को फांसी देने की उठी मांग

आनंद ने इस घटना पर सवाल उठाते हुए कहा कि एक मुस्लिम शख्स द्वारा ओबीसी यादव समुदाय की यह अपराध की सामान्य घटना है या साम्प्रदायिक उन्माद? मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को इसका जवाब जरूर देना चाहिए.

निखिल आनंद ने भागलपुर कि इस नृशंस घटना के दोषियों की अविलंब गिरफ्तारी करने, स्पीडी ट्रायल कर फांसी की सजा देने की मांग की. साथ ही कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री सह गृहमंत्री नीतीश कुमार इस जघन्य सांप्रदायिक घटना की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए पीड़िता को एक करोड़ मुआवजा अविलंब दें.

यह भी पढ़िए: लैंसेट की स्टडी: समय के साथ बदल जाते हैं कोरोनावायरस के लक्षण, ये बड़ी बात आई सामने

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़