नागरिकता कानून में संशोधन का समर्थन करता है राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष जॉर्ज कुरियन ने नागरिकता संशोधन कानून का स्वागत किया और इसका पुरजोर समर्थन भी किया. बता दें कि देश भर में ये भ्रम फैलाया जा रहा है कि ये कानून देश के मुसलमानों के खिलाफ है.

 नागरिकता कानून में संशोधन का समर्थन करता है राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग

दिल्ली: राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष जॉर्ज कुरियन ने नागरिकता संशोधन कानून का  पुरजोर समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि जो लोग भारत में अल्पसंख्यकों के मसीहा बनते हैं वही लोग पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न पर चुप हो जाते हैं. अगर कुछ समुदायों के साथ न्याय किया जाता है, तो इसका सभी को स्वागत करना चाहिए. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष और ईसाई सदस्य के तौर पर मैं तहे दिल से नागरिकता (संशोधन) अधिनियम का स्वागत करता हूं.

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग का समर्थन बड़ी बात

देश में जहां हर ओर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं वहीं राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के द्वारा इसका समर्थन करना बड़ी बात है. नागरिकता बिल के विरोध में असम से उठी विरोध कि चिंगारी दिल्ली आकर आग का गोला बन गई. जामिया मिल्लया यूनिवर्सिटी के बाद अब मंगलवार को सीलमपुर इलाके में नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में प्रदर्शन कर रहे लोगों की भीड़ उग्र हो गई और पुलिस पर पथराव कर दिया.

नागरिकता कानून पर छिड़ा है संग्राम

आपको बता दें कि जामिया इलाके में हुई हिंसा के बाद जाफराबाद और सीलमपुर इलाके में भी प्रदर्शनकारियों ने भारी उत्पात मचाया. पत्थरबाजी के जवाब में पुलिस ने भी भीड़ को तितर बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे. दिल्ली से दूर यूपी की राजधानी लखनऊ में अलग तरीके का विरोध भी किया गया.

पुलिस ने 10 लोगों को किया गिरफ्तार

हिंसा, आगजनी और तोड़फोड़ मामले में दिल्ली पुलिस ने 10 लोगों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किये गये सभी लोग जामिया इलाके के आसपास के रहने वाले हैं. इनमें 3 लोगों की पहले से आपराधिक पृष्ठभूमि रही हैं. दिल्ली पुलिस का कहना है कि 15 दिसंबर की हिंसा के पीछे गहरी साजिश है.

जरूर पढ़ें- साफ-साफ बोले शाह, CAA पर नहीं बदलेगा सरकार का रुख