संभल हिंसा: सांसद शफीकुर्रहमान समेत सपा के कई नेताओं पर मुकदमा

उत्तर प्रदेश के संभल जिले में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बवाल के दौरान हिंसा फैलाने के लिए समाजवादी पार्टी के कई नेताओं पर मुकदमा दर्ज किया गया है. इसमें संभल से सांसद शफीकुर्रहमान का भी नाम शामिल है

संभल हिंसा: सांसद शफीकुर्रहमान समेत सपा के कई नेताओं पर मुकदमा

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर उत्तर प्रदेश के संभल जिले में हिंसा मामले में समाजवादी पार्टी के कई नेताओं पर केस दर्ज किया गया है. इसमें संभल से समाजवादी पार्टी से सांसद का भी नाम शामिल है.

शफीकुर्रहमान पर केस दर्ज

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ गुरुवार को समाजवादी पार्टी ने संभल जिले में प्रदर्शन किया था, जिस दौरा भीड़ उग्र हो गई थी. इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने दंगाइयों का रूप धारण कर खूब बवाल काटा था. जिसके बाद संभल से सपा सांसद डॉक्टर शफीकुर्रहमान बर्क और सपा नेता फिरोज खान सहित 17 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है.

कुल 17 लोगों पर मुकदमा

इस कड़ी में संभल से नगर पालिका अध्यक्ष के पति सफी कुरैशी पर भी केस दर्ज किया गया है. जानकारी कि मुताबिक इस कार्रवाई के तहत कुल 17 लोगों के खिलाफ नामजद और कई अन्य अज्ञात लोगों पर केस दर्ज किया गया है.

क्या है आरोप?

इस कार्रवाई की वजह ये बताई जा रही है कि यूपी के संभल में समाजवादी पार्टी के नेताओं ने धारा 144 का उल्लघंन किया. जिसके तहत धारा 144 तोड़ने और बिना इजाजत जनसभा के आरोप में केस दर्ज हुआ है. हालांकि सांसद शफीकुर्रहमान ने अपनी सफाई देते हुए खुद पर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताया है.

इसे भी पढ़ें: CAA के खिलाफ बवाल ने कर्नाटक और एमपी के बिगाड़े हालात

प्रदर्शनकारियों की गुंडागर्दी का दिल दहला देने वाला मंजर यूपी के के संभल में भी नजर आया था. संभल में दंगाइयो ने रोडवेज की बसें फूंक दी गई थीं. इसके साथ-साथ यूपी के कई जिलों में बवाल और प्रदर्शन देखने को मिला. CAA के खिलाफ लोगों में अफवाह फैलाने का सिलसिला इतना तेज हो गया कि यूपी के कई जिलों में इंटरनेट शटडाउन किया गया.

इसे भी पढ़ें: यूपी में अफवाह की आग पर शिकंजा के लिए इंटरनेट सेवा बंद