close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सऊदी भागा हुआ आतंकवादी ''केमिकल अली'' गिरफ्तार, छह साल से था फरार

छत्तीसगढ़ पुलिस ने छह साल से फरार सिमी के एक आतंकवादी को हैदराबाद गिरफ्तार कर लिया है. वह भारत में सिमी का नेटवर्क खड़ा करने की कोशिश कर रहा था और 6 साल पहले देश छोड़कर सऊदी अरब फरार हो गया था.   

सऊदी भागा हुआ आतंकवादी ''केमिकल अली'' गिरफ्तार, छह साल से था फरार
6 साल से फरार आतंकवादी गिरफ्तार

रायपुरः पुलिस ने  प्रतिबंधित संगठन सिमी यानी स्टूडेन्ट्स इस्लामिक मूवमेन्ट ऑफ इंडिया के फरार सदस्य अजहरुद्दीन उर्फ अजहर को  हैदराबाद से गिरफ्तार कर लिया है. जिसके बाद उसे शुक्रवार की देर रात हैदराबाद से रायपुर लाया गया. फिलहाल उससे पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी पूछताछ कर रहे हैं. 

गिरफ्तार अजहर पर साल 2013 में बोधगया और पटना में हुए विस्फोट का आरोप है. इस मामले में अब तक 18 आतंकी गिरफ्तार किए गए हैं. लेकिन प्रमुख आरोपियों में से एक अजहरुद्दीन उर्फ केमिकल अली फरार होने में सफल हो गया था. लेकिन एटीएस और रायपुर पुलिस लगातार उसकी तलाश में थे. उसके पीछे मुखबिर लगाए गए थे. जिन्होंने खबर दी कि आरोपी फ्लाइट से हैदराबाद आने वाला है. जिसके बाद रायपुर पुलिस और एटीएस अधिकारियों का एक दल हैदराबाद रवाना हो गया. 

गिरफ्तार किया गया आतंकी अजहरूद्दीन उर्फ अजहर उर्फ केमिकल अली के बाप का नाम नईमुद्दीन उर्फ बाबू खान है. 32 साल की उम्र वाला यह शख्स मूल रूप से रायपुर शहर के ही मौदहापारा का निवासी है. वह सिमी में कोऑर्डिनेशन का काम करता था. उसके जिम्मेद बम बनाने और संगठन के प्रचार प्रसार की भी जिम्मेदारी थी. उसने साल 2013 में हुए बम ब्लास्ट के बाद आतंकियों को रायपुर में छिपाने में अहम भूमिका निभाई थी। 

उसकी गिरफ्तारी के लिए हैदराबाद पहुंचने वाली पुलिस टीम ने एयरपोर्ट अथॉरिटी से समन्वय स्थापित किया और फ्लाइट से उतरने वाले यात्रियों की निगरानी करने लगी. इसी दौरान आरोपी अजहरुद्दीन एयरपोर्ट से बाहर निकलता हुआ दिखाई दिया, जिसे तुरंत हिरासत में ले लिया गया. 

सिमी आतंकी अजहरुद्दीन फिर से रायपुर में सिमी का नेटवर्क खड़ा करने की कोशिश में लगा हुआ था. इसके लिए उसने कई लोगों से संपर्क भी किया था. आतंकी कार्रवाई में शामिल होने के बाद वह यहां से भागकर सऊदी अरब चला गया. वह हैदराबाद में अपने परिवार से मिलने आया था, इस चक्कर में गिरफ्तार हो गया. 

उसके खिलाफ रायपुर सिविल लाइंस थाने में केस दर्ज है. कोर्ट ने उसे वांटेड घोषित करते हुए स्थायी वारंट जारी किया था.गिरफ्तार अजहर के पास से यह सब सामान बरामद किया गया है.