रोहिंग्या पर छिड़ गया घमासान, अमित शाह Vs असदुद्दीन ओवैसी

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने रोहिंग्या के मुद्दे पर उलझाने वाली बातें करते हुए अमित शाह के सवाल का जवाब दिया है. रोहिंग्या मुसलमान पर सियासी ड्रामा जबरदस्त उफान पर है और इस ड्रामे में ओवैसी के ड्रामे ने चार चांद लगा दिया है..

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Nov 29, 2020, 09:12 PM IST
  • रोहिंग्या मुसलमानों पर होगी आर-पार की जंग
  • अमित शाह ने रोहिंग्या पर ओवैसी को खूब कोसा
  • जवाब में ओवैसी ने दिया घिसा-पिटा जवाब!
रोहिंग्या पर छिड़ गया घमासान, अमित शाह Vs असदुद्दीन ओवैसी

हैदराबाद: हैदराबाद में निगम चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. पहले भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, फिर फायरब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ और अब पूर्व अध्यक्ष और भाजपा के चाणक्य अमित शाह ने हैदराबाद में दमखम दिखाया. अमित शाह की ललकार पर सियासी वार-पलटवार शुरू हो गया.

रोहिंग्या पर शुरू हुआ सियासी संग्राम

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को TRS और AIMIM को जमकर खरी-खोटी सुनाई. शाह हैदराबाद नगर निगम के चुनाव (GHMC) चुनाव प्रचार के आखिरी दिन रोड शो के लिए पहुंचे थे. इस दौरान केंद्रीय गृहमंत्री ने भाग्यलक्ष्मी मंदिर में जाकर पूजा अर्चना भी की. उन्होंने कहा कि हम निजाम संस्कृति से हैदराबाद को निजात दिलाना चाहते हैं. इस दौरान उन्होंने रोहिंग्या के मुद्दे पर अपनी भड़ास निकाली, जिसके बाद सियासी बखेड़ा खड़ा हो गया.

असदुद्दीन ओवैसी को अमित शाह ने रोहिंग्या के मुद्दे पर फटकार लगाई तो, ओवैसी का दोहराचरित्र एक बार फिर खुलकर सामने आ गया. असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि "ओवैसी को चाहिए कि लिखजकर दे, कितने रोहिंग्या हैं ये उनका काम है. अगर है तो पकड़िए न गृह मंत्री जी.."

दरअसल, एक सवाल पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने हैदराबाद में रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर कहा कि 'जब कार्रवाई करते हैं तो ये लोग (विपक्षी दल) हाय तौबा करते हैं.'

रोहिंग्या को लेकर शाह की टिप्पणी

शाह ने AIMIM के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी पर निशाना साधा. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ओवैसी को जवाब देते हुए रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर कहा कि 'जब हम कार्रवाई करते हैं तो ये लोग (विपक्षी दल) हाय तौबा करते हैं. कितनी बड़ी आवाज में रोते हैं. एक बार लिखकर दे दें कि बांग्लादेशी और रोहिंग्या को निकालना है, फिर मैं करता हूं. सिर्फ चुनाव में बात करने से नहीं होता है. जब पार्लियामेंट में निकालने के लिए बहस होती है तो कौन इसका पक्ष लेता है? देश की जनता सब जानती है.'

उन्होंने कहा कि विपक्षी दल एक बार लिखकर दें कि बांग्लादेशी और रोहिंग्या को निकाल दें, फिर मैं कुछ करता हूं. इसके अलावा उन्होंने कहा कि हैदराबाद में आईटी हब बनने की क्षमता है. इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास नगर निगम द्वारा किया जाना है, भले ही धन राज्य और केंद्र द्वारा दिया गया हो. उन्होंने टीआरएस और कांग्रेस को हैदराबाद नगर निगम की सबसे बड़ी बाधा करार दिया. 

साख ही शाह ने इस दौरान अन्य भी कई मुद्दों पर ओवैसी एंड कंपनी को कोसा, "हम हैदराबाद को Dynasty से democracy की ओर ले जाना चाहते हैं. चाहे ओवैसी साहब की पार्टी हो या TRS हो. सब हमें सवाल करते हैं, मैं इसने पूछना चाहता हूं कि इतने बड़े तेलंगाना में आपको आपके परिवार के अलावा कोई नहीं मिलता है क्या? क्या किसी में कोई टेलेंट नहीं है?"

"हम हैदराबाद को भ्रष्टाचार से पारदर्शिता की ओर ले जाना चाहते हैं, हम हैदराबाद को तुष्टिकरण से विकास की ओर ले जाना चाहते हैं. मैं केसीआर से पूछना चाहता हूं कि मजलिस के साथ आप गुप्त समझौता क्यों करते हो? इतनी हिम्मत क्यों नहीं है कि मजलिस के साथ खुले आम सीटें शेयर करें."

Hyderabad में Amit Shah: रोहिंग्या पर टिप्पणी, मजलिस पर खूब बरसे गृहमंत्री

देश और दुनिया की हर एक खबर अलग नजरिए के साथ और लाइव टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐप, जो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा... नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें-

Android Link - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.zeenews.hindustan&hl=en_IN

iOS (Apple) Link - https://apps.apple.com/mm/app/zee-hindustan/id1527717234

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़