New Year 2021 की पहली विनायकी चतुर्थी आज, बस एक दूब से प्रसन्न होंगे श्रीगणेश

शनिवार यानी आज 16 जनवरी 2021 को विनायकी चतुर्थी मनाई जा रही है. गणेश भगवान अपने भक्तों के संकटों को दूर करते हैं. मान्यता है कि इस दिन भगवान गणेश की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jan 16, 2021, 06:34 AM IST
  • भगवान गणेश को दूर्वा अर्पित करना चाहिए
  • गणेश जी को लड्डू, मोदक का भोग लगाएं
New Year 2021 की पहली विनायकी चतुर्थी आज, बस एक दूब से प्रसन्न होंगे श्रीगणेश

नई दिल्लीः New Year 2021 की पहली विनायकी चतुर्थी आज यानी शनिवार को पड़ रही है. हिंदी माह के अनुसार हर चतुर्थी तिथि भगवान गणेश को अर्पित होती है. चारों दिशाएं उनके अधीन हैं. वह लोकपालों और दिगपालों के स्वामी भी हैं. इसलिए चतुर्थी तिथि को उन्हें प्रसन्न किया जाता है.

अभी वर्तमान में पौष माह चल रहा है.  शनिवार यानी आज 16 जनवरी 2021 को विनायकी चतुर्थी मनाई जा रही है. गणेश भगवान अपने भक्तों के संकटों को दूर करते हैं. मान्यता है कि इस दिन भगवान गणेश की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं और भगवान गणेश का आशीर्वाद मिलता है.

विनायक चतुर्थी का महत्व  
विनायक चतुर्थी पर गणेश जी की पूजा मध्याह्न (दोपहर) के दौरान की जाती है.  सनातनी पौराणिक कथाओं के अनुसार, इस दिन भगवान गणेश की पूजा करने का बेहद ही विशेष महत्व है. जो व्यक्ति इस दिन उपवास करता है इसके जीवन से सभी बाधाएं दूर हो जाती हैं.

वहीं, अगर दंपत्तियों द्वारा इस दिन व्रत किया जाए तो विवाहित जीवन में आने वाली समस्याएं दूर हो जाती हैं.  भगवान गणेश की पूजा करने से कार्यों में किसी भी तरह की कोई रुकावट नहीं आती है. इसलिए गणपति महाराज को विघ्नहर्ता के नाम से भी जाना जाता है.

यह भी पढ़िएः Daily Horoscope: जानिए आज 16 जनवरी का राशिफल, कैसा रहेगा आपका दिन

विनायक चतुर्थी पूजा-विधि
सुबह उठ कर स्नान करें. स्नान करने के बाद घर के मंदिर में दीप प्रज्वलित करें. भगवान गणेश को स्नान कराएं. स्नान के बाद भगवान गणेश को साफ वस्त्र पहनाएं. भगवान गणेश को सिंदूर का तिलक लगाएं. सिंदूर का तिलक अपने माथे में भी लगाना चाहिए. गणेश भगवान को दुर्वा अतिप्रिय होता है. भगवान गणेश को दुर्वा अर्पित करना चाहिए. गणेश जी को लड्डू, मोदक का भोग लगाएं. गणेश जी की आरती करें. भगवान गणेश को दूर्वा, दूब बहुत प्रिय है. दूब जरूर चढ़ाइए. 

विनायक चतुर्थी का मुहूर्त

पूजा मुहूर्त - 16 जनवरी को सुबह 11 बजकर 28 मिनट से लेकर दोपहर 01 बजकर 34 मिनट तक
चतुर्थी तिथि प्रारम्भ - सुबह 07:45 बजे, जनवरी 16, 2021
चतुर्थी तिथि समाप्त - सुबह 08:08 बजे, जनवरी 17, 2021

यह भी पढ़िएः शनिवार को कीजिए ये खास उपाय, दूर होंगीं सारी बाधाएं

देश और दुनिया की हर एक खबर अलग नजरिए के साथ और लाइव टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐप, जो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा... नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें-

Android Link - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.zeenews.hindustan&hl=en_IN

iOS (Apple) Link - https://apps.apple.com/mm/app/zee-hindustan/id1527717234

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़